रोग संकेत

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

रोग संकेत, रोग के लक्षण या अस्वस्थता संकेत किसी भी शरीर या जीव स्वभाव में पाए जाने वाले समान अवस्था से हटे हुए संकेत हैं जो या तो किसी रोग या किसी स्वस्थ से जुड़ी समस्या का इशारा करते हैं। जैसे कि:

  • शरीर का तापमान बढ़ना बुखार का संकेत है।
  • पेट में जकड़न कई बार अन्य के पाचन की समस्या दिखाते हैं।
  • आँखों का आवश्यकता से अधिक लाल होना आँख आने का संकेत हो सकता है।

ऊपर दिए गए उदाहरण कई बार सटीक भी होते हैं और कई बार इनमें और बातें भी शामिल होती हैं। उदाहरण के लिए, शरीर का तापमान बढ़ना बुखार का संकेत हो सकता है परन्तु यह मलेरिया या टाइफ़ॉइड]] का भी संकेत हो सकता है। संकेतो पर किसी निष्कर्ष पर पहुँचने के लिए डॉक्टरों को सारे पहलुओं को जाँचना पड़ सकता है। इसके लिए कई बार लैब परीक्षण भी आवश्यक होते हैं।

कुछ संकेतों के उदाहरण[संपादित करें]

  • अगर नाखूनों की सतह पर खरोंच या गड्ढे बन गए हों तो इसका मतलब है कि कैल्शियम की कमी या त्वचा में संक्रमण है।
  • लंबे समय तक कफ बनना या कोई दर्द, घाव जो भरे नहीं, कोई मस्सा जिसका रंग बदल गया हो व आंतों संबंधी समस्या जो लंबे समय तक बनी रहे कैंसर की चेतावनी देती है।[1]

सन्दर्भ[संपादित करें]