रातू

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
रातू सर कामिसेसे मारा, जिन्हें फ़िजी का राष्ट्रपिता माना जाता है, लाऊ द्वीपों के मुखिया होने के नाते 'रातू' की उपाधि रखते थे

रातू (Ratu) दक्षिणी प्रशांत महासागर के फ़िजी द्वीप समूह के मूल निवासियों में मुखिया का दर्जा रखने वाले पुरुषों की उपाधि है। इसी सामाजिक स्तर की महिलाओं को आँजी (लिखने में Adi, हालांकि उच्चारण आँजी) कहा जाता है। इन्डोनीशिया के जावा द्वीप पर भी मलय भाषा में भी पारम्परिक रूप से राजाओं व राजकुँवरों को 'रातू' कहा जाता है।[1]

शब्दोत्पत्ति[संपादित करें]

फ़िजीयाई भाषा में 'तू' का अर्थ 'मुखिया' है और 'रा' कई उपाधियों में आगे लगाई जाने वाली ध्वनि है। मलय भाषा में भी यह शब्द इसलिये मिलता है क्योंकि मलय और फ़िजीयाई दोनों मलय-पोलेनीशियाई भाषाएँ हैं और इनमें कई सजातीय शब्द हैं।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Lau Islands, Fiji, By Arthur Maurice Hocart, Published 1929, Bernice P. Bishop Museum, Ethnology, 241 pages, Original from the University of Michigan, no.62 1929, Digitized Feb 23, 2007. Page 150