यूसुफ़ मेहर अली

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

यूसुफ़ मेहर अली (23 सितंबर, 1903 - 2 जुलाई, 1950) भारत के एक स्वतंत्रता सेनानी, राजनेता और समाज सुधारक थे। वे राष्ट्रीय मीलीशिया, बंबई युथ लीग और कांग्रेस सोशिलिस्ट पार्टी में शामिल थे। उसने मज़दूर और किसान संगठन को मज़बूत कराने में योगदान दिये। उसने स्वतंत्रता संग्राम के दौरान आठ बार जेल में जीना पड़ा। वे 1942 में लाहौर जेल से बहार आए और फिर मुंबई के मेयर के रूप में चुने गये। [1] उसने 'भारत छोड़ो आंदोलन में भी महत्वपूर्ण योगदान दिये।[2]

I hate ugliness and cruelty and that is why I am a socialist. My socialism is based on aesthetic and ethical premises and not on Economics.
—Yusuf Maheralli

सन्दर्भ[संपादित करें]