महात्मा गांधी चित्रकूट ग्रामोदय विश्वविद्यालय

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

महात्मा गांधी चित्रकूट ग्रामोदय विश्वविद्यालय (MGCGV) मध्य प्रदेश के सतना जिले में मन्दाकिनी नदी के किनारे चित्रकूट में स्थित है। इसकी स्थापना का मुख्य उद्देश्य महात्मा गांधी के ग्रामीण विकास के स्वप्न को साकार कर ग्राम स्वराज्य की स्थापना है। अत: सम्यक तकनीक की शिक्षा और इसका प्रसार करना इसका प्रमुख लक्ष्य है। इसकी स्थापना १२ फ़रवरी सन् १९९१ को महाशिवरात्रि के दिन मध्यप्रदेश सरकार के अधिनियम (९, १९९१) के द्वारा हुई।

कार्य क्षेत्र[संपादित करें]

  • सम्यक तकनीक (एप्रोरिएट टेक्नॉलोजी) का विकास, प्रचार-प्रसार एवं शिक्षण
  • गांवों के विकास के लिये अक्षय कृषि तकनीकों (sustainable agricultural techniques) में अनुसंधान
  • ग्रामीण संसाधनों का प्रबंधन
  • महिलाओं सहित ग्रामीण जनता को शिक्षा देकर उनका सशक्तिकरण करना एवं उनमें जागरूकता पैदा करना
  • उर्जा के वैकल्पिक साधनों पर अनुसंधान
  • ग्रामीण कलाकारों एवं शिल्पकारों में कौशल (skill) विकसित करना

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]