मसुरियादीन

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ

मसुरियादीन (1911-1978) एक भारतीय राजनीतिज्ञ एवं स्वतंत्रता सेनानी थे। वे भारतीय संविधान सभा, और तत्पश्चात चार बार लोकसभा के सदस्य रहे।[1]

जीवन परिचय[संपादित करें]

मसुरिया दीन का जन्म 2 अक्टूबर 1911 को इलाहाबाद शहर के समीप जोंधवल, जो अब शहर का हिस्सा है, में हुआ था। वह पासी समुदाय से थे, जो यूपी में दूसरी सबसे अधिक अनुसूचित जाति समूह है। उनकी शिक्षा इलाहाबाद के गवर्नमेंट नॉर्मल स्कूल में हुई थी। वे एक व्यवसायी थे जिन्होंने भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन में 'आपराधिक जनजाति अधिनियम' के खिलाफ भाग लिया और 1932 और 1944 के बीच कई बार जेल गए।


वह 1946 में भारत की संविधान सभा के लिए चुने गए। 1952 और 1957 में उन्हें फूलपुर से और 1962 और 1967 के आम चुनावों में चायल लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र से लोकसभा के लिए चुना गया। वह कांग्रेस पार्टी के सदस्य थे।

उन्होंने ऑल इंडिया डिप्रेस्ड क्लासेस लीग, हरिजन वेलफेयर बोर्ड के सदस्य के रूप में कार्य किया। 21 जुलाई 1978 को उनका निधन हो गया।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "चौथे लोक सभा के सदस्य मसूरिया दिन पासी". Lok Sabha Secretariat, New Delhi. अभिगमन तिथि 12 April 2020.