भूमिहार

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
(भूमिहार ब्राह्मण से अनुप्रेषित)
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

भूमिहार या भूइंहार या बाभन ब्राह्मण जाति (भारतीय जाती) है जो उत्तर प्रदेश, बिहार एवं बहुत थोड़ी संख्या में अन्य प्रदेशों में निवास करती है। भूमिहार भगवान परशुराम को प्राचीन समय से अपना गुरु मानते है। भूमिहार (भुइंहार) उत्तरप्रदेश के गाजीपुर जिले मे सबसे जादा है | कइ भुइंहारो का मुल स्थान गाजीपुर जिले मे है |व भूमिहार (बाभन) बिहार के सारण , मुज्फफरपुर व बेगुसराय जिले मे सबसे जादा है तथा अलग अलग गोत्रो के बाभनो का मुल यही क्षेत्र है |मजबुत कदकाठी के भुइंहार तथा बाभन एक शक्तिशाली उतकृष्ट लक्षणो वाली श्रेष्ठ ब्राह्मण आर्य (भारतीय ) जाती हैै

जो अपनी रक्त की शुद्धता को बचाये रखने मे विश्वास करती है|भूमिहारो ने अपने ब्राह्मण संस्कृती व रक्षात्मक युद्ध कौशल दोनो को ही प्राचीन समय से ही महत्व दिया है व भारत के सबसे महत्वपुर्ण भाग मे रहते है |

भूमिहार समाज में उपाधिय है पाण्डेय, तिवारी, त्रिपाठी, मिश्र, शुक्ल, उपाध्यय, शर्मा, पाठक दूबे, द्विवेदी इसके अलावा राजपाट और ज़मींदारी के कारण एक बड़ा भाग भूमिहार का राय, शाही, सिंह, उत्तर प्रदेश में और शाही, सिंह (सिन्हा), चौधरी, ठाकुर बिहार में होते है। त्यागी दिल्ली व आसपास के भू-भाग में होते है। भूइंहार के अलावा अन्य भी ये उपनाम प्रयोग करते हैं।[1]

ये भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]