भारत-श्रीलंका सम्बन्ध

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ

भारत और श्री लंका के सम्बन्ध बहुत प्राचीन हैं और सामान्यतः मैत्रीपूर्ण रहे हैं। किन्तु श्रीलंकाई गृहयुद्ध के समय सम्बन्ध प्रभावित हुए थे। भारत, श्री लंका का एकमात्र पड़ोसी है। दक्षिण एशिया में दोनों देशों की स्थिति रणनीतिक दृष्टि से अत्यन्त महत्वपूर्ण है। दोनों देशों की इच्छा हिन्द महासागर में एक उभयनिष्ट सुरक्षा घेरा बनाने की है।[1] ऐतिहासिक एवं सांस्कृतिक दृष्टि से दोनों देश एक-दूसरे के अत्यन्त निकट रहे हैं। श्री लंका के ७०% नागरिक अब भी थेरावाद के अनुयायी हैं।

भारत और श्रीलंका दोनों कामनवेल्थ के सदस्य देश हैं।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "BBC News - SOUTH ASIA - India's Sri Lankan scars". news.bbc.co.uk. मूल से 16 सितंबर 2018 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 27 अक्तूबर 2018.

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]