सामग्री पर जाएँ

बिरबाहा हाँसदा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
बिरबाहा हाँसदा
ᱵᱤᱨᱵᱟᱦᱟ ᱦᱟᱸᱥᱫᱟ
जन्म 8 अक्टूबर 1982 (1982-10-08) (आयु 41)
बिनपुर, झाड़ग्राम, भारत
नागरिकता भारतीय
पेशा अभिनेत्री
पुरस्कार संताली फिल्म फेयर अवार्ड 2008-2012

बिरबाहा हाँसदा (जन्म 8 अक्टूबर 1982) भारतीय संथाली फिल्म अभिनेत्री एवं राजनीतिज्ञ हैं। वह सर्वभारतीय तृणमूल कांग्रेस के सदस्य हैं। वर्तमान में वह पश्चिम बंगाल सरकार के स्वयं सहायता समूह और स्व-रोजगार के लिए कैबिनेट मंत्री और वन और उपभोक्ता मामलों के राज्य मंत्री के रूप में कार्य करती हैं। वह झाड़ग्राम विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र की सदस्य हैं।[1] एक अभिनेत्री के रूप में, हांसदा ने मुख्य रूप से संथाली फिल्मों के साथ-साथ कुछ बांग्ला और हिन्दी भाषा की फिल्मों में भी अभिनय किया है।[2]

प्रारंभिक जीवन[संपादित करें]

उनका जन्म भारत के पश्चिम बंगाल के झाड़ग्राम जिला के बिनपुर थाना के आंकरो गाँव में हुआ था। उनके पिता नरेन हांसदा, झारखंड पार्टी (नरेन) के संस्थापक हैं। उनकी माता चुनीबाला हांसदा झारखंड पार्टी (नरेन) के अध्यक्ष थे।

उन्होंने घाटशिला कॉलेज में अपनी उच्च माध्यमिक शिक्षा पूरी की और कलकत्ता विश्वविद्यालय से स्नातक की उपाधि प्राप्त की। उसने कम उम्र में संथाली फिल्मों में अभिनय करना शुरू कर दिया था।

करियर[संपादित करें]

फिल्मी करियर[संपादित करें]

अपने करियर की शुरुआत में, बिरबाहा ने फिल्म अभिनेता और निर्माता प्रेम मार्डी के साथ काम करना शुरू किया। 2008 में, उनकी पहली फिल्म आद आलोम आसो आ थी। इस फिल्म में उनके प्रदर्शन के लिए उन्हें प्रशंसा मिली और पहली बार 'रास्का' (RASCA) पुरस्कार मिला। उन्होंने अच्चा ठीक गेया, आस ताहे ऐना आमरे, आमगे सारी दुलारिया (2012), तड़े सुताम (2013), जुपुर जूली, आलोम रेजिना साकम सिन्दूर (2013), मलंग, फुलमनी जैसी फिल्म में अभिनय किया। फिल्म आमगे सारी दुलारिया के लिए उन्हें सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का पुरस्कार मिला। फिल्मों में अभिनय के अलावा, उन्होंने कई संगीत एलबम में काम किया है, ए ना मसला बाहा (2014), ए डगर ना (2014), चाग च चँदो (2014), आदि उनकी उल्लेखनीय एलबम है।

राजनीतिक करियर[संपादित करें]

हांसदा ने 2021 पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव जीता।उन्होंने सर्वभारतीय तृणमूल कांग्रेस विधायक के रूप में झाड़ग्राम विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र का प्रतिनिधित्व किया। वह पश्चिम बंगाल सरकार के स्वयं सहायता समूह और स्व-रोजगार के लिए कैबिनेट मंत्री और वन और उपभोक्ता मामलों के राज्य मंत्री के रूप में कार्य करती हैं।

पुरस्कार[संपादित करें]

  • 2008 से 2012 तक, संथाली फिल्मफेयर पुरस्कार प्राप्त हुआ।
  • रास्का पुरस्कार प्राप्त हुआ।
  • फिल्म फुलमनी दिल्ली अंतर्राष्ट्रीय फिल्म प्रतियोगिता, 2018 में 122 वें स्थान पर है।[3]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "Birbaha Hansda: Everything to know about the Santali actor who won in West Bengal elections". The Indian Express (अंग्रेज़ी में). 2021-05-11. अभिगमन तिथि 2023-05-22.
  2. "Parbatipur Indian film actress Birbaha Hansda" (Bengali में). 18 February 2019.[मृत कड़ियाँ]
  3. "Birbaha photo of Delhi movie festival". मूल से 8 अप्रैल 2019 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 24 अप्रैल 2019.