बालस्वरूप राही

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

बालस्वरूप राही भारत के हिंदी कवि और गीतकार हैं। उनका जन्म 4 मई 1936 को ग्राम तिमारपुर, नई दिल्ली में हुआ था। वे अपने गीत और ग़ज़ल के लिए सबसे ज्यादा जाने जाते हैं। उन्होंने हिन्दी फ़िल्मों के लिए कई गीत लिखे हैं। वे वर्तमान में नई दिल्ली के मॉडल टाउन में रहतें है। उन्होंने दिल्ली विश्वविद्यालय में हिंदी विभाग के प्रमुख के रूप में काम किया है।

किताबें[संपादित करें]

  • मेरा रूप तुम्हारा दर्पण
  • जो नितान्त मेरी है
  • राग विराग (चित्रलेखा पर आधारित हिंदी ओपेरा)
  • सूरज का रथ
  • रहि को समझायें कौन
  • दादी अम्मा मुजे बताऔ
  • हम सब आगे निकलेंगे
  • गाल बने गुब्बारें

सन्दर्भ[संपादित करें]