बाधा द्वीप

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
अन्य तटीय स्थलाकृतियों के साथ बाधा द्वीप

बाधा द्वीप (barrier island) तटों पर स्थित एक प्रकार के द्वीप होते हैं जो बहुत चपटे या ढेरों के रूप में जमा रेत के बने होते हैं और समुद्री लहरों व ज्वारभाटाओं द्वारा तट के समानांतर बन जाते हैं। यह अक्सर शृंखलाओं में बन जाते हैं जिनमें चंद द्वीपों से लेकर दर्ज़न से भी अधिक द्वीप हो सकते हैं। आंधी-तूफ़ान और अन्य प्रक्रियाओं से इनमें बदलाव होते रहते हैं लेकिन बाधा द्वीप समुद्री लहरों की ऊर्जा झेलकर अपने पीछे स्थित खारी अनूप झीलों के पानी को शांत रखते हैं जिससे वहाँ आर्द्रभूमि वातावरण पनप सकते हैं।

बाधा द्वीपों की शृंखलाएँ सैंकड़ों किलोमीटर तक चल सकती हैं जिनमें लम्बे आकार के द्वीप एक दूसरे से केवल ज्वारभाटा जल के प्रवाह द्वारा कटी हुई नहरों से से अलग परिभाषित होते हैं। संयुक्त राज्य अमेरिका के टेक्सस राज्य का पादरे द्वीप विश्व का सबसे लम्बा बाधा द्वीप है और इसकी लम्बाई १८२ किमी है।[1] अनुमान लगाया गया है कि दुनिया के लगभग १३% तटरेखाओं पर बाधा द्वीप बने हुए हैं।[2]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Garrison, J.R., Jr., Williams, J., Potter Miller, S., Weber, E.T., II, McMechan, G., and Zeng, X., 2010, "Ground-penetrating radar study of North Padre Island; Implications for barrier island interval architecture, model for growth of progradational microtidal barrier islands, and Gulf of Mexico sea-level cyclicity:" Journal of Sedimentary Research, v. 80, p. 303–319.
  2. Smith, Q.H.T., Heap, A.D., and Nichol, S.L., 2010, "Origin and formation of an estuarine barrier island, Tapora Island, New Zealand:" Journal of Coastal Research, v. 26, p. 292–300.