प्रत्युष प्रकाश

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
प्रत्युष प्रकाश
Pratyush Prakash (2014).jpg
प्रत्युष प्रकाश
जन्म 14 दिसम्बर 1991
उड़ीसा, भारत
व्यवसाय गीतकार, कवि
प्रसिद्धि कारण थ्री डी कामसूत्र

प्रत्युष प्रकाश (जन्म: १४ दिसम्बर १९९१) बॉलीवुड में कार्यरत एक गीतकार[1] [2], व कवि हैं। थ्री डी कामसूत्र (२०१४) फिल्म में इनके लिखे गए गीत ऑस्कर के लिए चुना गया था।[3][3] [4] [5] [6]

शुरुआत के दिन[संपादित करें]

प्रत्युष का जन्म सन् १९९१ में ओड़िसा में एक मध्य वर्गीय परिवार में हुआ था। इनके पिता फोरमैन के रूप में महानदी कोल्फ़ील्ड्स में कार्यरत हैं एवं इनकी माता गृहिणी हैं। इन्होने प्रारंभिक शिक्षा डी.ए.वी. पब्लिक स्कूल, एम.सी.एल. कलिंगा छेत्र (१९९५-२००९) से की। उच्च शिक्षा के लिए इन्होने भारत यूनिवर्सिटी, चेन्नई में दाखिला करवाया और २०१३ में इन्होने ऑटोमोबाइल इंजिनियर की डिग्री ली। प्रकाश अभी एक इ-लर्निंग कंपनी में इंस्ट्रक्शनअल डिज़ाइनर के रूप में कार्यरत हैं।

करियर[संपादित करें]

प्रकाश ने अपनी पहली गीत १८ साल की उम्र में लिखी थी। इसके बाद प्रकाश लघु फिल्म एवं एलबम्स के लिए गीत लिखना शुरू किया। इनके करियर का सबसे सुनहरा अवसर तब आया जब इन्होने अपना पहला गीत एक बॉलीवुड फिल्म कामसूत्र ३-डी के लिए लिखा, तब प्रकाश २२ वर्षीय थें. इन्होने बॉलीवुड फिल्म, कामसूत्र ३-डी के लिए दो गीत लिखें.

कामसूत्र ३-डी की सफलता के बाद इन्होने हुमा कुरैशी एवं रजत कपूर कार्यरत बॉलीवुड फिल्म, "X" के लिए गीत लिखा. बॉलीवुड फिल्मों के साथ साथ प्रकाश ने कुछ सामाजिक संस्था के लिए भी गीत लिखा. "मुझे रौशनी नहीं देखनी" को लोगों के द्वारा बहुत सराहा गया।

प्रकाश ने एक ऑनलाइन एल्बम, "E-11" के लिए भी गीत लिखा. "दादा एंथम" (एक गीत इस एल्बम से) को सौरव गांगुली के अधिकारिक जालस्थल पर दर्शाया गया।

नीजी जीवन[संपादित करें]

प्रकाश अभी चेन्नई में रहते हैं।

सन्दर्भ[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]