पूर्णिमा सिन्हा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
पूर्णिमा सिन्हा
जन्म १२ अक्टूबर, १९२७
कोलकाता, भारत
मृत्यु ११ जुलाई २०१५
बेंगलुरु, भारत
आवास शांतिनिकेतन, भारत
राष्ट्रीयता भारतीय
क्षेत्र क्ले खनिजों की एक्सरे क्रिस्टलोग्राफ़ी
संस्थान भारतीय विज्ञान संस्थान, बैंगलोर
शिक्षा कलकत्ता विश्वविद्यालय
डॉक्टरी सलाहकार सत्येंद्र नाथ बोस
प्रसिद्धि भौतिक विज्ञान में डॉक्टरेट प्राप्त करने वाली पहली बंगाली महिला

पूर्णिमा सिन्हा एक भारतीय भौतिक विज्ञानी थी। वह भौतिक विज्ञान में डॉक्टरेट प्राप्त करने वाली पहली बंगाली महिला थी।[1]

उनका जन्म १२ अक्टूबर १९२७ को हुआ था। वह डॉ. नरेश चंद्रा सेन-गुप्ता की सबसे छोटी बेटी, जो एक संवैधानिक वकील और एक प्रगतिशील लेखक थे, जिन्होंने बंगाली और अंग्रेजी में ६५ पुस्तकों और कई निबंधों पर लिखे है।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "Biographical article". अभिगमन तिथि 6 April 2014.