पुरा-लवण परत

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

पुरा-लवण परत या नमक से पहले की परत (पुर्तगाली: Camada pré-sal; अंग्रेजी:Pre-salt layer), अफ्रीका और ब्राजील के सागरतट से परे महाद्वीपीय उपतट पर स्थित एक भूवैज्ञानिक संरचना है। इस परत का महत्व इसलिए है क्योंकि इसके नीचे महत्वपूर्ण पेट्रोरसायनिक संसाधनों का वृहद भण्डार छिपा है। पेट्रोब्रास के अनुसार इस परत के ऊपर नमक की एक मोटी परत स्थित है जिसकी मोटाई कुछ स्थानों पर लगभग 2000 मीटर तक है। इस परत में और इसके नीचे तेल और प्राकृतिक गैस के भण्डार स्थित है। हालांकि नमक की परत और चट्टानों को वेध कर तेल और गैस निकालने का काम बहुत महंगा है। चूँकि चट्टानों की इस विशाल शृंख्ला का निक्षेपण नमक की परत से पहले हुआ था इसीलिए इसे पुरा-लवण परत कहा जाता है।

सन्दर्भ[संपादित करें]