पुनीत इस्सर

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ
पुनीत इस्सर
Puneet Issar at Dara Singh's funeral 09.jpg
पुनीत इस्सर दारा सिंह के अंतिम संस्कार पर 2012 में
जन्म 12 सितम्बर 1958 (1958-09-12) (आयु 63)
राष्ट्रीयता भारतीय
व्यवसाय अभिनेता, निर्देशक
कार्यकाल 1974 - वर्तमान
जीवनसाथी दीपाली इस्सर (वि॰ 2022)
बच्चे नवृति इस्सर (पुत्री)
सिध्दांत इस्सर (पुत्र)
माता-पिता सुदेश इस्सर (पिता)

पुनीत इस्सर हिन्दी ( जन्म: १२ सितंबर, १९५८) भारतीय अभिनेता तथा निर्देशक हैं. इनकी सबसे अधिक ख्याति प्राप्त अदायगी बी आर चोपड़ा के महाभारत धारावाहिक में दुर्योधन के चरित्र के रूप में थी। उसके अलावा इन्होने सलमान खान द्वारा अभिनीत फ़िल्म गर्व (२००४) का भी निर्देशन किया है.

व्यक्तिगत जीवन[संपादित करें]

पुनीत इस्सर फ़िल्म निर्देशक सुदेश इस्सर के पुत्र है।. इनकी पत्नी दीपाली, पंजाबी अभिनेता दिलीप पुरी और बंगाली गायिका अक्षिता पुरी की पुत्री हैं. ६०, ७० एवं ८० के दशक में मशहूर बाल कलाकार सत्यजीत पुरी दीपाली के भाई हैं. पुनीत की दो संतान हैं: निवृति (पुत्री) और सिद्धांत (पुत्र). प्रशिक्षित अभिनेता होने के साथ साथ पुनीत कला अभिनय के प्रोफेसर भी हैं. इसके अलावा वो एक सुप्रशिक्षित मार्शल आर्टिस्ट भी हैं. इन्हे कुंग-फू, कराटे, बॉक्सिंग तथा कुश्ती का भी शौक है।

विवादित घटना[संपादित करें]

वर्ष १९८३ में फ़िल्म कुली की शूटिंग के दौरान एक स्टंट में इनके हाथो अमिताभ बच्चन को गंभीर चोट लग गयी थी। हालाँकि इन्होने हमेशा कहा है की चोट इनके हाथ से न लग के अमिताभ के पीछे रखे लकड़ी के पटरे से लगी थी, फिर भी काफी दिनों तक पुनीत को प्रेस और अमिताभ के प्रशंसकों का गुस्सा झेलना पड़ा था। हालात इतने बुरे थे की इन्हे धमकी और नफरत भरे पत्र भी मिला करते थे. मगर अस्पताल में अमिताभ बच्चन ने इनको ढाढस बंधाया और बहुत प्यार से कहा, "पुनीत इसमें आपकी कोई गलती नहीं, और मुझे मालूम है की अपने ये जान बूझ के नहीं किया था." इतना ही नहीं बहुत कमज़ोर हो चुके अमिताभ बच्चन ने स्वयं इनके साथ बाहर आकर प्रशंसकों से अनुरोध किया की पुनीत के ऊपर व्यर्थ का गुस्सा न निकालें. करीब करीब ६ वर्ष तक बॉलीवुड से लगभग बहिष्कृत पुनीत को बी आर चोपड़ा ने अपने पौराणिक धारावाहिक महाभारत में दुर्योधन का किरदार निभाने को दिया. यही किरदार इनके मील के पथ्थर की तरह साबित हुआ.

प्रमुख फिल्में[संपादित करें]

वर्ष फ़िल्म चरित्र टिप्पणी
1987 वतन के रखवाले अकबर

Krish

नामांकन और पुरस्कार[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]