पलक

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
पलकें और बरौनियाँ

पलक का अर्थ होता है आँख की पुतली के ऊपर का पपोटा जो इसकी सुरक्षा करता है। पलकें सिकुड़कर और खुलकर आँख के खुलने और बंद होने कि स्थितियाँ बनाती हैं। पलकों का झपकना एक वांछित या अनैच्छिक दोनों प्रकार की क्रिया है। पलकों के किनारों पर नन्हे बालों की पंक्ति होती है जिन्हें बरौनियाँ कहा जाता है।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]