परावर्तनमापी

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
परिवहन के विभिन्न साधनों में प्रयुक्त कुल केबल की लम्बाई । इन साधनों में लगे तारों और केबिलों की वैद्युत दशा जानने के लिए प्रायः परावर्तनमापीय विधि का उपयोग का उपयोग किया जाता है।

परावर्तनमापी (reflectometry) वस्तुओं का पता लगाने की एक विधि है जो तरंगों के परावर्तन के कारण उनमें आये परिवर्तनों का उपयोग करती है। ये तरंगे वस्तुओं के तल से या अन्तरफलक (इन्टरफेस) से परावर्तित होतीं हैं। इस विधि को परावर्तनमापीय विधि (eflectometry method) भी कहते हैं।

परावर्तनमापन के अनेक प्रकार हैं और इन्हें कई प्रकार से वर्गीकृत किया जा सकता है, जैसे प्रयुक्त विकिरण या तरंग के आधार पर (विद्युतचुम्बकीय, पराश्रव्य, कणपुंज आदि) ; तरंग गति की ज्यामिति के अनुसार (बिना मार्गदर्शन के चलने वाली तरंग, मार्गदर्शित तरंग, या केबल से जने वाली तरंग) ; लम्बाई या दूरी के अनुसार।

सन्दर्भ[संपादित करें]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]