निकोलो मैकियावेली

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
निकोलो मैकियावेली
Portrait of Niccolò Machiavelli by Santi di Tito.jpg
निकोलो मैकियावेली का चित्र सांति दी टिटो द्वार
जन्म 3 मई 1469
फ़्लोरेन्स, Republic of Florence
मृत्यु 21 जून 1527(1527-06-21) (उम्र 58)
फ़्लोरेन्स, Republic of Florence
माता-पिता Bernardo di Niccolò Machiavelli[*]
Era Renaissance philosophy
Region पाश्चात्य दर्शन
School Renaissance humanism, political realism, classical republicanism
Main interests
राजनीति और राजनीतिक दर्शन, military theory, इतिहास
हस्ताक्षर
Machiavelli Signature.svg
मैकियावेली की प्रतिकृति

निकोलो मैकियावेली (Niccolò di Bernardo dei Machiavelli) (३ मई १४६९ - २१ जून १५२७) इटली का राजनयिक एवं राजनैतिक दार्शनिक, संगीतज्ञ, कवि एवं नाटककार था। पुनर्जागरण काल के इटली का वह एक प्रमुख व्यक्तित्व था। वह फ्लोरेंस रिपब्लिक का कर्मचारी था। मैकियावेली की ख्याति (कुख्याति) उसकी रचना द प्रिंस के कारण है जो कि व्यावहारिक राजनीति का महान ग्रन्थ स्वीकार किया जाता है।

मैकियावेली आधुनिक राजनीति विज्ञान के प्रमुख संस्थापकों में से एक माने जाते हैं। वे एक कूटनीतिज्ञ, राजनीतिक दार्शनिक, संगीतज्ञ, कवि और नाटककार थे। सबसे बड़ी बात कि वे फ्लोरिडा गणराज्य के नौकरशाह थे। 1498 में गिरोलामो सावोनारोला के निर्वासन और फांसी के बाद मैकियावेली को फ्लोरिडा चांसलेरी का सचिव चुना गया।

लियानार्डो द विंसी की तरह, मैकियावेली पुनर्जागरण के पुरोधा माने जाते हैं। वे अपनी महान राजनीतिक रचना, द प्रिंस (राजनीतिक शास्त्र), द डिसकोर्स और द हिस्ट्री के लिए मशहूर हुए जिनका प्रकाशन उनकी मृत्यु (1532) के बाद हुआ, हालांकि उन्होंने निजी रूप इसे अपने दोस्तों में बांटा। एकमात्र रचना जो उनके जीवनकाल में छपी वो थी द आर्ट ऑफ वार. ये रचना युद्ध-कौशल पर आधारित थी। अपनी कुटिल राजनीति को मैकियावेलीवाद कहा जाता है।

निकोलो मैकियावेली

सन्दर्भ[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]