नरसिंहगढ़

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

नरसिंहगढ़ नगर मध्य भारत के मध्य प्रदेश राज्य के राजगढ़ ज़िले में सोनार नदी के दाएं किनारे पर स्थित है।

इतिहास[संपादित करें]

1681 में स्थापित यह नगर नरसिंहगढ़ रियासत की राजधानी था। नरसिंहगढ़ पर मालवा के ख़लजी शासकों का शासन था। जिन्होंने यहाँ एक क़िले और मस्जिद का निर्माण कराया। नरसिंहगढ़ नगर एक झील के किनारे बसा हुआ है, जिसके पीछे एक पर्वतों की चोटी का क़िला और महल स्थित है। मराठों के शासनकाल में ये इसी नाम के परगने का मुख्यालय था।

इन्हें भी देखें: कुंवर चैन सिंह

== कृषि और उद्योग- यह नगर कृषि विपणन केंद्र है। कपड़ा बुनना यहाँ का प्रमुख उद्योग है। इसके अलावा यहां कृषि का काम प्रमुख रूप से होता है। यहाँ के किसान गेंहू, चने, मक्का, सोयाबीन, मसूर , प्याज,लहसुन इत्यादि की फसल मूल रूप से उगाते है।

शिक्षण संस्थान[संपादित करें]

नरसिंहगढ़ नगर में एक संगीत अकादमी और बरकतुल्ला विश्वविद्यालय से संबद्ध सरकारी महाविद्यालय है।