डाफला पहाड़ियाँ

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

डाफला पहाड़ियाँ पूर्वोत्तर भारत में असम और अरुणाचल प्रदेश राज्यों की सीमा के पश्चिमी भाग पर स्थित एक पहाड़ी शृंख्ला है। यह तेज़पुर और लखीमपुर ज़िले से उत्तर में खड़ी हुई हैं।[1]

लोग व इतिहास[संपादित करें]

डाफला पहाड़ी क्षेत्र में इसी डाफला नाम की जनजाति बसती है। भारत में ब्रिटिश राज के आरम्भिक काल में इनका एक बड़ा भाग ब्रिटिश व्यवस्था के अधीन नहीं था। सन् १८७२ में इन स्वतंत्र लोगों ने अचानक एक समीपी ब्रिटिश क़ब्ज़े वाले क्षेत्र में बसे अपनी ही जनजाति के अन्य लोगों पर धावा बोला और उनमें से ४४ लोगों को बन्दी बनाकर उठा ले गए। इसके उत्तर में १८७४ में ब्रिटिश राज ने १,००० सैनिकों के दस्ता लेकर उनपर आक्रमण करा और उन्हें अपनी अधीनता स्वीकारने पर विवश कर दिया।[2]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "Geography and Development of Hill Areas: A Case Study of Arunachal Pradesh," N. Sharma and Surya Pal Shukla, Mittal Publications, 1992, ISBN 9788170993834
  2. Chisholm, Hugh, ed. (1911). "Daphla Hills". Encyclopædia Britannica. 7 (11th ed.). Cambridge University Press. p. 825.