छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय
स्थापना २००१
अधिकार क्षेत्र भारत
स्थान बोदरी, बिलासपुर
निर्वाचन पद्धति राष्ट्रपति द्वारा भारत के मुख्य न्यायाधीश एवं उस राज्य के राज्यपाल की सलाह से
प्राधिकृत भारत का संविधान
निर्णय पर अपील हेतु भारत का सर्वोच्च न्यायालय
न्यायाधीश कार्यकाल ६२ वर्ष की आयु तक
पदों की संख्या १८
जालस्थल http://www.cghighcourt.nic.in/
न्यायमूर्ति
वर्तमान पीआर रामचंद्र मेनन

छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय छत्तीसगढ़ राज्य का उच्च-न्यायालय है। यह बिलासपुर मे स्थित है। यह भारत के नवीनतम उच्च-न्यायालयों में से एक है। इसे १ नवंबर २००० को मध्य प्रदेश पुनर्गठन अधिनियम, २००० के अंतर्गत मान्यता मिली थी। बिलासपुर उच्च-न्यायालय देश का १९वां उच्च-न्यायालय है।[1]

छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय, बिलासपुर

सम्मानीय न्यायधीश आर.एस. गर्ग इसके प्रथम मुख्य न्यायधीश थे।[2] वर्तमान में न्यायाधीशों के १८ पद स्वीकृत किये गए हैं।

छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय के न्यायाधीशों की सूची[3][4][5][संपादित करें]

  • जस्टिस प्रशांत कुमार मिश्रा
  • जस्टिस मनिंद्र मोहन श्रीवास्तव
  • जस्टिस गौतम भादुड़ी
  • जस्टिस संजय अग्रवाल
  • जस्टिस पी सेम कोसी
  • जस्टिस संजय अग्रवाल
  • जस्टिस राजेंद्र चंद्र सिंह सामंत
  • जस्टिस शरद कुमार गुप्ता
  • जस्टिस राम प्रसन्ना शर्मा
  • जस्टिस अरविंद सिंह चंदेल
  • जस्टिस पार्थ प्रतीम साहू
  • जस्टिस गौतम चौरडिया
  • जस्टिस विमला सिंह कपूर
  • जस्टिस रजनी दुबे

मुख्य न्यायाधीश[संपादित करें]

वर्तमान में मुख्य न्यायाधीश पीआर रामचंद्र मेनन हैं। इनका जन्म एक जून १९५९ को एर्नाकुलम, केरल में हुआ था. एर्नाकुलम में ही स्कूल और कॉलेज की शिक्षा प्राप्त करने के बाद १९८२ में शासकीय विधि महाविद्यालय से विधि में स्नातक हुए और १९८३ से वकालत शुरू की।

भूतपूर्व मुख्य-न्यायाधीशों की सूची[6][संपादित करें]

  • सम्मानीय न्यायधीश आर.एस. गर्ग (१ नवम्बर २००० से ४ दिसम्बर २०००)
  • सम्मानीय न्यायधीश डब्लू.ए. शिशाक (४ दिसम्बर २००० से ६ फ़रवरी २००२)
  • सम्मानीय न्यायधीश के.एच्.एन. करंगा (६ फ़रवरी २००२ से २८ मई २००४)
  • सम्मानीय न्यायधीश इ.एस.वी. मोहंती (२८ मई २००४ से १४ मार्च २००५)
  • सम्मानीय न्यायधीश ए.के पटनायक (१४ मार्च २००५ से २ फ़रवरी २००८)
  • सम्मानीय न्यायधीश राजीव गुप्ता (२-२-२००८ से १०-१०-२०१२)
  • सम्मानीय न्यायधीश यतिंद्र सिंह (२२-१०-२०१२ से ८-१०-२०१४)
  • सम्मानीय न्यायधीश नवीन सिन्हा (९-७-२०१४ से ११-५-२०१६)
  • सम्मानीय न्यायधीश दीपक गुप्ता (16.05.2016 से 16.02.2017)
  • सम्मानीय न्यायधीश थोटाथिल बी राधाकृष्णन (18.03.2017 से 06.07.2018)
  • सम्मानीय न्यायधीश अजय कुमार त्रिपाठी (07.07.2018 से 26.03.2019)

भूतपूर्व न्यायधीश जिन्होंने उच्चतम न्यायालय के न्यायधीश के रूप में भी कार्य किया[संपादित करें]

(१) सम्मानीय न्यायधीश एच.एल. दत्तू

(२) सम्मानीय न्यायधीश ए.के पटनायक

छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय बार-एसोसिएशन[संपादित करें]

‘’’छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय बार-एसोसिएशन’’’ बिलासपुर उच्च न्यायालय में कार्यरत सभी अधिवक्ताओं का प्रतिनिधिक-निकाय है, प्रतिनिधियों का चयन सीधे-वोटिंग द्वारा लगभग २,४०० सदस्यों के मतों से होता है, जिनका कार्यकाल २ वर्षों का होता है।

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "संग्रहीत प्रति". मूल से 5 नवंबर 2012 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि ६ अक्तूबर २०१३.
  2. "संग्रहीत प्रति". मूल से ५ नवंबर २०१२ को पुरालेखित. अभिगमन तिथि ६ अक्तूबर २०१३.
  3. "संग्रहीत प्रति". मूल से १२ दिसंबर २०११ को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 6 अक्तूबर 2013.
  4. "संग्रहीत प्रति". मूल से 2 अक्तूबर 2013 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि ६ अक्तूबर २०१३.
  5. "संग्रहीत प्रति". मूल से २६ अप्रैल २०१४ को पुरालेखित. अभिगमन तिथि ६ अक्तूबर २०१३.
  6. "संग्रहीत प्रति". मूल से १२ दिसंबर २०११ को पुरालेखित. अभिगमन तिथि ६ अक्तूबर २०१३.