चंद्र टोही परिक्रमा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
चंद्र टोही परिक्रमा
Lunar Reconnaissance Orbiter
चंद्र टोही परिक्रमा का चित्रण
चंद्र टोही परिक्रमा का चित्रण
मिशन प्रकार चंद्र आर्बिटर
संचालक (ऑपरेटर) नासा
कोस्पर आईडी 2009-031A
सैटकैट नं॰ 35315
वेबसाइट lunar.gsfc.nasa.gov
मिशन अवधि
  • प्राथमिक मिशन: 1 साल[1]
    * साइंस मिशन: 2 साल[1]
    * एक्सटेंशन 1: 2 साल[1]
    * एक्सटेंशन 2: 2 साल[2]
    * गुजर चुके: 10 साल, 3 माह और 25 दिन
अंतरिक्ष यान के गुण
निर्माता नासा / गोडार्ड स्पेस फ्लाइट सेंटर
लॉन्च वजन 1,916 कि॰ग्राम (4,224 पौंड)[3]
शुष्क वजन 1,018 कि॰ग्राम (2,244 पौंड)[3]
पेलोड वजन 92.6 कि॰ग्राम (204 पौंड)[3]
आकार-प्रकार प्रक्षेपण: 390 × 270 × 260 से॰मी॰ (152 × 108 × 103 इंच)[3]
ऊर्जा 1850 वाट[4]
मिशन का आरंभ
प्रक्षेपण तिथि जून 18, 2009, 21:32:00 यु.टी. सी
रॉकेट एटलस 5 401
प्रक्षेपण स्थल केप केनवरल अंतरिक्ष प्रक्षेपण परिसर 41
ठेकेदार यूनाइटेड लांच अलायन्स
सेवा में प्रवेश सितंबर 15, 2009
कक्षीय मापदण्ड
निर्देश प्रणाली चन्द्र केन्द्रीय
अर्ध्य-मुख्य अक्ष (सेमी-मेजर ऑर्बिट) 1,798 कि॰मी॰ (1,117 मील)
परिधि (पेरीएपसिस) 20 कि॰मी॰ (12 मील)
उपसौर (एपोएपसिस) 165 कि॰मी॰ (103 मील)
युग मई 4, 2015[5]
चंद्र कक्षीयान
कक्षीय निवेशनजून 23, 2009

चंद्र टोही परिक्रमा (Lunar Reconnaissance Orbiter) वर्तमान में चंद्रमा में एक विलक्षण ध्रुवीय मानचित्रण कक्षा में परिक्रमा कर रहा एक नासा के रोबोट अंतरिक्ष यान है.[6][7] चंद्र टोही परिक्रमा के द्वारा एकत्र आंकड़ों नासा के भविष्य के लिए चंद्रमा के लिए मानव और रोबोट मिशन के रूप में वर्णित किया गया है इसका विस्तृत मानचित्रण कार्यक्रम सुरक्षित लैंडिंग साइटों की पहचान करने के लिए, चंद्रमा पर संभावित संसाधनों का पता लगाने के लिए, निस्र्पक विकिरण वातावरण और नई प्रौद्योगिकियों का प्रदर्शन करने के लिए है.[8][9]

इस मिशन की कुल लागत US$583 मिलियन है, जिसमें से $504 मिलियन मुख्य चंद्र टोही परिक्रमा के लिए और $79 मिलियन LCROSS उपग्रह के लिए है। [10]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "LRO Mission Description". PDS Geosciences Node. Washington University in St. Louis. September 24, 2012 [2007]. अभिगमन तिथि October 9, 2015.
  2. Hand, Eric (September 3, 2014). "NASA extends seven planetary missions". Science. अभिगमन तिथि October 9, 2015.
  3. "Lunar Reconnaissance Orbiter (LRO): Leading NASA's Way Back to the Moon" (PDF). NASA. June 2009. NP-2009-05-98-MSFC. अभिगमन तिथि October 9, 2015.
  4. "LRO Spacecraft Description". PDS Geosciences Node. Washington University in St. Louis. April 11, 2007. अभिगमन तिथि October 9, 2015.
  5. Neal-Jones, Nancy (May 5, 2015). "NASA's LRO Moves Closer to the Lunar Surface". NASA. अभिगमन तिथि October 9, 2015.
  6. Petro, N. E.; Keller, J. W. (2014). "Five Years at the Moon With the Lunar Reconnaissance Orbiter (LRO): New Views of the Lunar Surface and Environment". Annual Meeting of the Lunar Exploration Analysis Group. October 22–24, 2014. Laurel, Maryland.. Lunar and Planetary Institute. http://www.hou.usra.edu/meetings/leag2014/pdf/3059.pdf. 
  7. "The Current Location of the Lunar Reconnaissance Orbiter". Arizona State University. अभिगमन तिथि September 24, 2014.
  8. "LRO Mission Overview". NASA. अभिगमन तिथि October 3, 2009.
  9. Houghton, Martin B.; Tooley, Craig R.; Saylor, Richard S. (2006). "Mission design and operation considerations for NASA's Lunar Reconnaissance Orbiter". 57th International Astronautical Congress. October 2–6, 2006. Valencia, Spain.. IAC-07-C1.7.06. http://lunar.gsfc.nasa.gov/library/IAC-07-C1_7_06.pdf. 
  10. Harwood, William (June 18, 2009). "Atlas 5 rocket launches NASA Moon mission". CNet.com. अभिगमन तिथि June 18, 2009.