ग्वाला तारामंडल

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
ग्वाला तारामंडल
Boötes constellation
तारामंडल
Boötes IAU.svg
तारों की सूची
संक्षिप्त रुप Boo
दायाँ आरोहण 13h 36.1m to 15h 49.3m[1] h
दिक्पात +7.36° to +55.1°[1]°
चक्र NQ3
क्षेत्र 907 sq. deg. (13th)
मुख्य तारे 7, 15
बायर तारे 59
बहिर्ग्रह वाले तारे 10
3.00m से चमकीले तारे 3
10.00 पारसैक (32.62 प्रकाशवर्ष) परिधि के तारे 3
सबसे_चमकीला_तारा स्वाति तारा (α Boo, Arcturus) (−0.04m)
निकटतम तारा जीजे 526 (GJ 536)
(17.71 प्रव, 5.43 पसै)
मॅसिये वस्तुएँ 0
उल्का बौछारें
  • जनवरी बूटिड
  • जून बूटिड
  • क्वाड्रांटिड
तारामंडल
(सीमा से सटे)
अक्षांश +90° और −50° के बीच दृश्यमान।
सबसे उत्तम दृश्य 21:00 (रात्रि 9 बजे) जून के महीने में।
अन्य नाम: आर्क्टोफ़ायलैक्स (Arctophylax)

ग्वाला या बोओटीस (अंग्रेज़ी: Boötes) तारामंडल खगोलीय गोले के उत्तरी भाग में दिखने वाला एक तारामंडल है। यह 0° और +60° के झुकाव और 13 से 16 घंटे के दायां आरोहण पर स्थित है। दूसरी शताब्दी ईसवी में टॉलमी ने जिन ४८ तारामंडलों की सूची बनाई थी यह उनमें से एक है और अंतर्राष्ट्रीय खगोलीय संघ द्वारा जारी की गई ८८ तारामंडलों की सूची में भी यह शामिल है। इस तारामंडल में आकाश का तीसरा सब से रोशन तारा, स्वाती (आर्कट्युरस), सम्मिलित है। पुरानी खगोलशास्त्रिय पुस्तकों में इसे अक्सर एक ग्वाले या चरवाहे के रूप में दर्शाया जाता था, जिसके हाथ में दो कुत्तों के पत्ते हैं।[2][3]

तारे[संपादित करें]

ग्वाले तारामंडल में पंद्रह मुख्य तारे हैं, हालांकि वैसे इसमें 59 तारों को बायर नाम दिए जा चुके हैं। इसके "τ बोओटीस" (Tau Boötis) तारे के इर्द-गिर्द एक गैस दानव ग्रह परिक्रमा कर रहा है जो चौथा खोजा गया ग़ैर-सौरीय ग्रह था। इस तारामंडल के मुख्य तारे इस प्रकार हैं -

बायर नाम नाम नाम का अर्थ
α स्वाती (आर्कट्युरस) "आर्कट्युरस" का यूनानी में अर्थ है "भालुओं का रखवाला"
β नॅक्कर
γ सॅगिनस
ε इज़ार कमरबन्द
η मुफ़्रिद अकेला / तनहा
μ अल-कलौरोप्स चरवाहे की लाठी
h मॅर्गा कुदाली
ψ नदलत छोटे वाले

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. IAU, The Constellations, Boötes.
  2. Ridpath, Ian (2001). Stars and Planets Guide. Princeton University Press. ISBN 978-0-691-08913-3.
  3. Pasachoff, Jay M. (2000). Stars and Planets (4th ed.). Houghton Mifflin. ISBN 978-0-395-93431-9.