ग्रिड अभिकलन

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

जब विभिन्न प्रशासनिक अधिकार-क्षेत्रों में स्थित कम्प्यूटर-संसाधनों का प्रयोग किसी एक ही कार्य को करने के लिये किया जाता है तो उसे ग्रिड अभिकलन (Grid computing) कहा जाता है। प्राय: इसका उपयोग बहुत बड़े वैज्ञानिक, तकनीकी या वाणिज्यिक कार्यों के निष्पादन के लिये किया जाता है। इस तरह के कार्य के लिए अधिकार क्षेत्र में स्थित्त कंप्यूटर संसाधनो को समय व दिन के अनुसार किराये का भुगतान किया जाता है।

ग्रिड कंप्यूटिंग एक आम लक्ष्य तक पहुंचने के लिए व्यापक रूप से वितरित कंप्यूटर संसाधनों का उपयोग है। ग्रिड को गैर-इंटरैक्टिव वर्कलोड वाले वितरित सिस्टम के रूप में सोचा जा सकता है जिसमें बड़ी संख्या में फाइलें शामिल होती हैं। ग्रिड कंप्यूटिंग पारंपरिक उच्च-प्रदर्शन कंप्यूटिंग सिस्टम से अलग है जैसे क्लस्टर कंप्यूटिंग में उस ग्रिड कंप्यूटर में प्रत्येक नोड सेट एक अलग कार्य / अनुप्रयोग करने के लिए होता है। क्लस्टर कंप्यूटर की तुलना में ग्रिड कंप्यूटर भी अधिक विषम और भौगोलिक रूप से फैले हुए होते हैं (इस प्रकार भौतिक रूप से युग्मित नहीं होते हैं)। [1] हालांकि एक ग्रिड किसी विशेष अनुप्रयोग को समर्पित किया जा सकता है, आमतौर पर विभिन्न उद्देश्यों के लिए एक ग्रिड का उपयोग किया जाता है। ग्रिड अक्सर सामान्य उद्देश्य ग्रिड मिडलवेयर सॉफ्टवेयर पुस्तकालयों के साथ बनाया जाता है। ग्रिड आकार काफी बड़े हो सकते हैं । [2]

ग्रिड वितरित कंप्यूटिंग का एक रूप है जिसके द्वारा " सुपर वर्चुअल कंप्यूटर " कई नेटवर्क किए गए ढीले युग्मित कंप्यूटरों से बना होता है जो बड़े कार्यों को करने के लिए मिलकर काम करते हैं। कुछ अनुप्रयोगों के लिए, वितरित या ग्रिड कंप्यूटिंग को एक विशेष प्रकार के समांतर कंप्यूटिंग के रूप में देखा जा सकता है जो पूर्ण कंप्यूटर (ऑनबोर्ड सीपीयू, स्टोरेज, पावर सप्लाई, नेटवर्क इंटरफेस इत्यादि के साथ) कंप्यूटर नेटवर्क (निजी या सार्वजनिक) से जुड़ा हुआ है एक पारंपरिक नेटवर्क इंटरफ़ेस , जैसे ईथरनेट । यह एक सुपरकंप्यूटर की पारंपरिक धारणा के विपरीत है, जिसमें स्थानीय हाई स्पीड कंप्यूटर बस से जुड़े कई प्रोसेसर हैं।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]