गैस

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
गैसों का कण मॉडल : गैसों के कणों के बीच की औसत दूरी अपेक्षाकृत अधिक होती है।

गैस (Gas) पदार्थ की तीन अवस्थाओं में से एक अवस्था का नाम है (अन्य दो अवस्थाएँ हैं - ठोस तथा द्रव)। गैस अवस्था में पदार्थ का न तो निश्चित आकार होता है न नियत आयतन। ये जिस बर्तन में रखे जाते हैं उसी का आकार और पूरा आयतन ग्रहण कर लेते हैं।

जीवधारियों के लिये दो गैसे मुख्य हैं, आक्सीजन गैस जिसके द्वारा जीवधारी जीवित रहता है , दूसरी जिसे जीवधारी अपने शरीर से छोड़ते हैं, उसका नाम कार्बन डाई आक्साइड है। इनके अलावा अन्य गैसों का भी बहु-प्रयोग होता है, जैसे खाना पकाने वाली रसोई गैसपानी दो गैसों से मिलकर बनता है, आक्सीजन और हाइड्रोजन

विशेषताएँ[संपादित करें]

एकपरमाणवीय गैस का तापमान इसके अणुओं की औसत गतिज ऊर्जा की अभिव्यक्ति है।
  • गैसों में द्रव्यमान होता है।
  • इनके अणु द्रवों और ठोस पदार्थों की तुलना में एक-दूसरे से दूर-दूर होते हैं।
  • गैसों का आकार और आयतन निश्चित नहीं होता।
  • इन्हें दबाकर इनका आयतन कम किया जा सकता है।
  • गैसों को द्रव अवस्था में बदला जा सकता है (गैसों का द्रवण, देखें)।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]