गामा सिगनाए तारा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
गामा सिगनाए आई॰सी॰१३१८ (IC1318) नामक नीहारिका (नॅब्युला) से घिरा हुआ है, जो इस चित्र में दिखाई गई है

गामा सिगनाए​, जिसका बायर नाम भी यही (γ Cygni या γ Cyg) है, हंस तारामंडल का एक तारा है। यह पृथ्वी से दिखने वाले तारों में से ६६वाँ सब से रोशन तारा है। पृथ्वी से देखी गई इस तारे की चमक (सापेक्ष कान्तिमान) २.२४ मैग्नीट्यूड है और यह हमसे लगभग १,५०० प्रकाश वर्ष की दूरी पर स्थित है। गामा सिगनाए तारा एक आई॰सी॰१३१८ (IC1318) नामक नीहारिका (नॅब्युला) से घिरा हुआ है।[1]

अन्य भाषाओँ में[संपादित करें]

गामा सिगनाए तारे को "सद्र​" (Sadr) या "सैडिर" (Sadir) भी कहते हैं, जो अरबी भाषा के صدر से आया है और जिसका अर्थ "छाती" है।

विवरण[संपादित करें]

गामा सिगनाए F8 Ib श्रेणी का एक महादानव तारा है, जिसका द्रव्यमान हमारे सूरज के द्रव्यमान का १२ गुना और व्यास (डायामीटर) हमारे सूरज के व्यास का २२५ गुना है। इसकी तारे की निहित चमक (निरपेक्ष कान्तिमान) सूरज की लगभग ६५,००० गुना है। यह एक परिवर्ती तारा भी है, जिसकी चमक समय के साथ-साथ थोड़ी ऊपर-नीचे होती रहती है।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Craig Crossen, Gerald Rhemann. "Sky vistas: astronomy for binoculars and richest-field telescopes". स्प्रिंगर, 2004. ISBN 9783211008515.