हंस तारामंडल

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
हंस तारामंडल

हंस या सिग्नस (अंग्रेज़ी: Cygnus) तारामंडल हमारी आकाशगंगा क्षीरमार्ग (मिल्की वे) के चपटे चक्र में स्थित एक तारामंडल है। दूसरी शताब्दी ईसवी में टॉलमी ने जिन ४८ तारामंडलों की सूची बनाई थी यह उनमें से एक है और अंतर्राष्ट्रीय खगोलीय संघ द्वारा जारी की गई ८८ तारामंडलों की सूची में भी यह शामिल है। इसे कभी-कभी उत्तरी शूल (उत्तरी क्रॉस) बुलाया जाता है। पुरानी खगोलशास्त्रिय पुस्तकों में इसे अक्सर एक हंस के रूप में दर्शाया जाता था।[1][2]

तारे[संपादित करें]

हन्स तारामंडल में नौ मुख्य तारे हैं, हालांकि वैसे इसमें दर्ज़नों तारे स्थित हैं। इसके दो अधिक चमकीले तारे हंस की आकृति से सिर पर स्थित हैं और इन दोनों को इकठ्ठा अल्बिरेयो बुलाया जाता है। अल्बिरेयो के दो तारे आंख से तो एक तारा प्रतीत होते हैं, लेकिन दूरबीन से देखा जाए तो साफ़ पता चलता है के यह वास्तव में पास-पास दो तारे हैं - एक का रंग थोड़ा पीला है और दुसरे का रंग थोड़ा नीला। हंस की आकृति की दुम में एक तीसरा ज़ोर से चमकने वाला डॅनॅब नाम का तारा है।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Levy, David H. (2005). Deep Sky Objects. Prometheus Books. ISBN 1-59102-361-0.
  2. Ridpath, Ian; and Tirion, Wil; (2007) Stars and Planets Guide, Collins, London; ISBN 978-0-00-725120-9, Princeton University Press, Princeton; ISBN 978-0-691-13556-4