क्वांटम गुरुत्व

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

क्वांटम गुरुत्व सैद्धांतिक भौतिकी का एक क्षेत्र है जो क्वांटम यांत्रिकी के सिद्धांतों के अनुसार गुरुत्वाकर्षण का वर्णन करता है, और जहां क्वांटम प्रभावों को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है,[1] जैसे कि कॉम्पैक्ट खगोल भौतिक वस्तुओं के पास जहां गुरुत्वाकर्षण का प्रभाव मजबूत है।क्वांटम गुरुत्व बहुत ही छोटे स्तर पर जैसे इलेक्ट्रान,प्रोटॉन और क्वार्क्स आदि छोटे कणो के अपने अपने गुरुत्वीय प्रभाव होता है| हम जानते है की प्रोटॉन बहुत सारे क्वार्क्स से मिलकर बने होते है अतः हम यह कह सकते है की क्वार्क्स एक दूसरे से किसी बल द्वारा जुड़े होते है अब यदि इस बल को हम छोटे स्तर पर गुरुत्वीय बल कह सकते है| सभी छोटे बड़े कणो का प्रभाव एक क्षेत्र है जो क्वांटम यांत्रिकी के अनुसार छोटे कणो के गुरुत्वाकर्षण का वर्णन करता है| हम क्वांटम गुरुत्व के कारण ही इलेक्ट्रान नाभिक के चक्कर लगता रहता है|

अवलोकन[संपादित करें]

आरेख भौतिकी सिद्धांतों के पदानुक्रम में क्वांटम गुरुत्व के स्थान को दर्शाता है

संदर्भ[संपादित करें]

  1. Rovelli, Carlo (2008). "Quantum gravity". Scholarpedia. 3 (5): 7117. डीओआइ:10.4249/scholarpedia.7117. बिबकोड:2008SchpJ...3.7117R. मूल से 4 जुलाई 2018 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 5 फ़रवरी 2019.

आगे की पढाई[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]