केवीऍल पावनी कुमारी

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ
केवीएल पावनी कुमारी
व्यक्तिगत जानकारी
पूरा नाम केवीएल पावनी कुमारी
राष्ट्रीयता भारतीय
जन्म 5 मार्च 2003 (उम्र 17 वर्ष)
विशाखापत्तनम, आंध्र प्रदेश
वज़न 45 किलो
खेल
खेल भारोत्तोलन
कोच पी मणिकयाल राव

केवीएल पावनी कुमारी (अंग्रेज़ी: KVL Pavani Kumar) (जन्म: 5 मार्च 2003) आंध्र प्रदेश के विशाखापट्टनम ज़िले से भारतीय भारोत्तोलक (वेटलिफ्टर) हैं। उन्होंने उज़्बेकिस्तान के ताशकंद में एशियन यूथ ऐंड जूनियर वेटलिफ्टिंग चैंपियनशिप में दो रजत पदक जीत कर 2021 के टोक्यो ओलंपिक में अपनी जगह बनाई।[1]

पावनी कुमारी 15वीं यूथ (सब जूनियर बॉयज़ ऐंड गर्ल्स) और बिहार के बोधगया में आयोजित 56वीं पुरुष एवं 32वीं महिला (जूनियर) नैशनल भारोत्तोलन चैम्पियनशिप 2019 में यूथ और जूनियर दोनों वर्गों में सर्वश्रेष्ठ लिफ्टर बनीं। इस प्रतियोगिता में उन्होंने युवा वर्ग में दो राष्ट्रीय रिकॉर्ड बनाए थे।[2]

व्यक्तिगत जीवन और पृष्ठभूमि[संपादित करें]

पावनी कुमारी का जन्म 5 मार्च 2003 को विशाखापट्टनम ज़िले के जी कोथापल्ली गाँव में एक ग़रीब किसान के घर में हुआ था। गंभीर आर्थिक कठिनाइयों का सामना करने के बावजूद परिवार खेलों में उनका करियर बनाना चाहता था और इसके लिए उन्होंने हर संभव प्रयास किया।

2011 में, उनके माता-पिता ने उन्हें आठ साल की उम्र में हैदराबाद में तेलंगाना स्पोर्ट्स अकादमी में भर्ती करा दिया। शुरू में डी श्रीनिवास और बाद में पी मनिकयल राव ने उन्हें कोचिंग देने की ज़िम्मेदारी संभाली जो आज तक उनके कोच बने हुए हैं।[3]

पावनी कुमारी अकादमी में रहने के दौरान छुट्टियों में अपने गाँव नहीं जाती थीं बल्कि अकादमी के बाहर ही रहने की व्यवस्था करतीं ताकि अपना अभ्यास जारी रख सके।[4]

उपलब्धियाँ[संपादित करें]

2019 में पावनी कुमारी ने 15वें यूथ (सब जूनियर बॉयज़ एंड गर्ल्स), 56वीं पुरुष और 32वीं महिला (जूनियर) नेशनल भारोत्तोलन चैम्पियनशिप में बिहार के बोधगया में सर्वश्रेष्ठ लिफ्टर का पुरस्कार जीता. युवा वर्ग में उन्होंने दो नए रिकॉर्ड भी बनाए।[5]

उज़्बेकिस्तान के ताशकंद में अपने पहले अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंट में एशियन यूथ ऐंड जूनियर वेटलिफ्टिंग चैंपियनशिप 2020 में उन्होंने युवा लड़कियों और जूनियर महिला, दोनों वर्गों में रजत पदक जीते।[6]

ताशकंद में अपने प्रदर्शन के ज़रिए उन्होंने 2021 टोक्यो ग्रीष्मकालीन ओलंपिक में अपनी जगह बना ली है।[7]

संदर्भ[संपादित करें]

  1. "India win five silver, six bronze medals at Asian Youth and Junior Weightlifting Championships". The New Indian Express. अभिगमन तिथि 2021-02-17.
  2. TelanganaToday. "Pavani Kumari wins gold with record lifts". Telangana Today (अंग्रेज़ी में). अभिगमन तिथि 2021-02-17.[मृत कड़ियाँ]
  3. "केवीएल पावनी कुमारी: आठ साल की उम्र से भार उठाने वाली वेटलिफ़्टर". BBC News हिंदी. अभिगमन तिथि 2021-02-17.
  4. "केवीएल पावनी कुमारी: आठ साल की उम्र से भार उठाने वाली वेटलिफ़्टर". BBC News हिंदी. अभिगमन तिथि 2021-02-17.
  5. TelanganaToday. "Pavani Kumari wins gold with record lifts". Telangana Today (अंग्रेज़ी में). अभिगमन तिथि 2021-02-17.[मृत कड़ियाँ]
  6. "India win five silver, six bronze medals at Asian Youth and Junior Weightlifting Championships". The New Indian Express. अभिगमन तिथि 2021-02-17.
  7. "केवीएल पावनी कुमारी: आठ साल की उम्र से भार उठाने वाली वेटलिफ़्टर". BBC News हिंदी. अभिगमन तिथि 2021-02-17.