कुलदेवी मंदिर

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
कुलदेवी मंदिर, डेरवा, प्रतापगढ़

कुलदेवी मंदिर, उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ जिले के डेरवा क़स्बे में स्थित प्रख्यात भदरी राजघराने की कुल देवी का मंदिर हैं। यह मंदिर कुंडा तहसील के डेरवा बाजार के पास भदरी राजघराने के जिल्ले में स्थित है, यह बिसेन ठाकुरों की कुलदेवी हैं, इसे उत्तर प्रदेश सरकार के कैबिनेट मंत्री रघुराज प्रताप सिंह के पूर्वजों ने बनवाया है। मंदिर लगभग ८०० साल पुरानी बताई जाती हैं। [1]

मान्यता अनुसार राजघराने के लोग कोई भी कार्य करने से पहले कुल देवी का आशीर्वाद लेते हैं। शादी विवाह में प्रथम निमंत्रण भी कुलदेवी को दिया जाता है। परम्पराओं से जुड़े राजघराने के लोग अब भी वासंतिक नवरात्र में नवमी के दिन देवी को भेंट चढ़ाने पहुंचते हैं।[1]

वर्ष २०१५, में उत्तर प्रदेश पर्यटन विकास मंत्रालय ने मंदिर को पर्यटन स्थल के तौर पर सजाने संवारने और विकसित करने के लिए डेढ़ करोड़ रुपये का पैकेज स्वीकृत प्रदान किया है।[1]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. शिवराम गिरि (मार्च २८, २०१५). [पर्यटन स्थल बनेगा कुलदेवी का मंदिर लखनऊ की कार्यदायी संस्था को डेढ़ करोड़ रुपये निर्माण के लिए मिलेंगे "http://epaper.amarujala.com/svww_zoomart.php?Artname=20150330a_007172011&ileft=229&itop=57&zoomRatio=130&AN=20150330a_007172011"] जाँचें |url= मान (मदद). अमर उजाला. |url= में 35 स्थान पर line feed character (मदद); |title= में बाहरी कड़ी (मदद)

kya ye mandir ham gorwa thakur rador ki kuldevi mandir hai