कनेर (पीली)

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

कनेर
Thevetia peruviana
Yellow Oleander (Thevetia peruviana) leaves & flowers in Kolkata W IMG 8008.jpg
Yellow Oleander flowers and leaves
वैज्ञानिक वर्गीकरण
जगत: Plantae
अश्रेणीत: Angiosperms
अश्रेणीत: Eudicots
अश्रेणीत: Asterids
गण: Gentianales
कुल: Apocynaceae
वंश: Thevetia
जाति: T. peruviana
द्विपद नाम
Thevetia peruviana
(Pers.) K. Schum.
पीली कनेर
Thevetia peruviana

पीले फूल वाली कनेर (Be still Tree or yellow Oleander) छोटी उंचाई वाला वृक्ष है। इसमें पीले फूल लगते हैं। इसकी पत्तियाँ लम्बी-पतली होतीं हैं।

कनेर पीली का दूध शरीर की जलन को नष्ट करने वाला और विषैला होता है। इसकी छाल कड़वी भेदन व बुखार नाशक होती है। छाल की क्रिया बहुत ही तेज होती है, इसलिए इसे कम मात्रा में सेवन करते है। नहीं तो पानी जैसे पतले दस्त होने लगते हैं। कनेर का मुख्य विषैला परिणाम हृदय की मांसपेशियों पर होता है। इसे अधिकतर औषधि के लिये उपयोग में लाया जाता है।

कनेर के पत्तो को गाय, भेड़, बकरिया नहीं खाती, इसलिए इसको ट्री गार्ड लगाने की आवश्यकता नहीं। कनेर को पशु नहीं कहते , इसलिए इसे खुले में लगाने में कोई दिक्कत नही। इसका उपयोग हेच बनाने की लिए बहुत किया जाता है।

विषाक्त[संपादित करें]

कनेर का बीज विषाक्त होता है। एक बीज का सेवन भी जान लेने के लिये काफी है। कनेर का जहर डाइगाक्सीन ड्रग की तरह है। डाइगाक्सीन दिल की धड़कन की रफ्तार कम करता है। कनेर का एक बीज डाइगाक्सीन के सौ टैबलेट के बराबर होता है। पहले तो यह दिल की धड़कन को धीमा करता है और आखिरकार एकदम रोक दोता है। क्या यह सच है। अभी इसका कोई पक्का प्रमाण नही मिला है। कृपया इसका पक्का प्रमाण दे अगर आपके आस पास कनेर के बीजों से कुछ हुआ है तो कृपया जरूर बताएं।hamare yaha ek ne khaya halat gambhir जिसने कनेर का बीज खाया क्या अब वो सुरक्षित है या उसकी मृत्यु हो चुकी है? हम इसका पक्का प्रमाण ढूंडने का प्रयत्न कर रहे है अगर आपके आस पास कनेर के बीज का सेवन करने से किसी की मृत्यु हुई है तो कृपया सूचित करे। सच में यह बहुत ही जहरीला होता है इसका प्रयोग कीटनाशक के रूप में भी कर सकते हैं|

चित्रदीर्घा[संपादित करें]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]