कथा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

कथा से आशय "वह जो कही जाय" अर्थात् 'बात' ।

न्याय में यथार्थ निश्चय या विपक्षी के पराजय के लिये जो बात कही जाय, उसे कथा कहते हैं । कथा के तीन भेद हैं - बाद, जल्प, वितण्डा ।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]