कज़ाख़िस्तान और रूस के संबंध

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ
रूसी राष्ट्रपति दिमित्री मेदवेदेव के साथ कजाकिस्तान के राष्ट्रपति नूरसुल्तान नजरबायेव

कजाकिस्तान और रूस के संबंध, कजाकिस्तान और रूस के बीच द्विपक्षीय विदेशी संबंधों को संदर्भित करता है। मास्को में कजाखस्तान का दूतावास है, सेंट पीटर्सबर्ग, आस्ट्राखान और ओम्स्क में वाणिज्य दूतावास जनरल स्थित है। रूस का दूतावास एस्टाना में है, अलमाटी और उराल्स्क में रूस का वाणिज्य दूतावास है। जनवरी 2005 को रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन और कजाख राष्ट्रपति नूरसुल्तान नजरबायेव ने सीमा के आधिकारिक नक्शे के समझौते के अनुमोदन पर हस्ताक्षर किए। 23 मई 2009 को दोनों देशों ने कजाखस्तान के अत्य्राऊ और रूस के आस्ट्राखान प्रांतों के बीच अपना पहला सीमा 7,591 किमी (4,717 मील) मार्कर रखा। यह सीमा दुनिया में सबसे लम्बी स्थल सीमा है।[1] सीमांकन पूरा होने में 10 से 15 साल तक का समय लगने की उम्मीद है।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "संग्रहीत प्रति". मूल से 1 अगस्त 2013 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 28 अप्रैल 2013.