ऑटोमन ख़िलाफ़त

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

ऑटोमन ख़िलाफ़त (1517-19 24), तुर्क साम्राज्य के तुर्क राजवंश के अधीन, मध्यकालीन और शुरुआती आधुनिक युग के आखिरी सुन्नी इस्लामिक ख़िलाफ़त साम्राज्य था। तुर्क विकास की अवधि के दौरान, तुर्क शासक मुराद ने खिलाफत अधिकार का दावा किया।.[1] बाद में सलीम प्रथम, मुस्लिम भूमि पर विजय और एकीकरण के माध्यम से, मक्का और मदीना इस्लामी पवित्र शहरों का बचावकर्ता बन गए, जिन्होंने मुस्लिम दुनिया में खिलाफत करने के लिए तुर्क दाबे को और मजबूत किया।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Lambton, Ann; Lewis, Bernard (1995). The Cambridge History of Islam: The Indian sub-continent, South-East Asia, Africa and the Muslim west. 2. Cambridge University Press. पृ॰ 320. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 9780521223102. अभिगमन तिथि 13 March 2015.