एस॰ एच॰ बिहारी

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

शम्शुल हुदा बिहारी या एस एच बिहारी एक प्रसिद्ध गीतकार थे। इन्होंने हिन्दी तथा उर्दू में रचनाएं की। इनका जन्म बिहार के आरा में हुआ था। आरंभ में कलकत्ता में रहते थे जहाँ से 1947 में उन्होंने बम्बई का रूख किया। इन्हें बांग्ला भाषा में भी महारथ हासिल थी पर इनकी रचनाएं मुख्यतः हिन्दी और उर्दू में रहीं।

संगीतकार ओ पी नैय्यर तथा गायक रफ़ी एवं गायिका आशा भोंसले के साथ इनकी जोड़ी बहुत प्रसिद्ध हुई। 1987 में उनका देहावसान हो गया।

प्रसिद्ध गीत[संपादित करें]

  • देखो वो चांद छुपके कारता है क्या इशारे (हेमन्त कुमार, लता मंगेशकर, 1953, फ़िल्म - शर्त)
  • बहुत शुक्रिया, बड़ी मेहरबानी, मेरी ज़िंदगी में हुज़ूर आप आए (संगीतकार - ओ पी नैय्यर, स्वर - रफ़ी, आशा, 1962, फ़िल्म - एक मुसाफ़िर एक हसीना)
  • दीवाना हुआ बादल, सावन की घटा छाई, ये देख के दिल झूमा, ली प्यार ने अंगराई (संगीतकार - ओ पी नैय्यर, स्वर - रफ़ी, आशा, 1964, फ़िल्म - कश्मीर की कली)
  • है दुनिया उसी की ज़माना उसी का, मुहब्बत में जो हो गया हो किसी का (संगीतकार - ओ पी नैय्यर, स्वर - मोहम्मद रफ़ी, 1964, फ़िल्म - कश्मीर की कली)
  • कज़रा मुहाब्बत वाला, अखिय़ों में ऐसा डाला, कज़रे ने ले ली मेरी जान (आशा भोंसले, फ़िल्म - किस्मत, 1968)