एत्ची

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
बहुत छोटे या पारदर्शी कपड़े (गीले अथवा नहीं) एत्ची के रूप में देखे जाने वाले कार्यों के प्ररूपी अवयव[1]

एत्ची (エッチ एत्ची?, pronounced [et.tɕi]) जापानी भाषा में लैंगिक क्रियाओं के लिए हँसी में अक्सर काम में लिया जाने वाला कठबोली शब्द है। विशेषण के रूप में यह शब्द "कामुक", "अश्लील" या "नटखट" के अर्थ में काम में लिया जाता है; क्रिया के रूप में एत्ची सुरु (エッチする) शब्द का प्रयोग यौन सम्बंध के लिए; संज्ञा के रू[अ में यह शब्द ऐयाश आचरण करने वाले के लिए प्रयुक्त किया जाता है।

शब्द एत्ची यौन जाति बोधन से सम्बंधित कार्य को वर्णित करने के लिए जापनी मीडिया के प्रशंसकों ने स्वीकार किया। जापानी में एत्ची शब्द का उपयोग अक्सर किसी व्यक्ति के आचरण को प्रशंसक भाव से दिखाते हुये किया जाता है। यह कामुकता दर्शाने वाले शब्द हेंताई की अलग रूप में चंचल कामुकता को दर्शाने के लिए प्रयोग होने लगा था।[2] एत्ची के रूप में वर्णित कार्यों का सम्भोग अथवा जननांगों से कोई लेना देना नहीं होता। इसके स्थान पर यौन विषय की ओर संकेत किया जाता है तथा अधिकतर भाग दर्शक/स्रोता की कल्पनाओं पर छोड़ दिया जाता है।[3][4]

व्युत्पत्ति और जापान में उपयोग[संपादित करें]

शब्द エッチ का हेपबर्न संकेतन में सही प्रतिलेखन "एत्ची" (etchi) है।[5]

पाश्चात्य उपयोग[संपादित करें]

Akibachan001b.png

जापानी में ओरिक-मांगा (お色気漫画) एक वाक्यांश है जिसमें मांगा शब्द का बहुत हल्के में अथवा चंचल कामुक सामग्री का वर्णन करता है। पाश्चात्य देशों में एत्ची अधिमानित शब्द बन चुका है। कठिन-कोर शब्द सेइजिनमुकेमांगा (成人向け漫画) को पश्चिम में हेनतई के रूप में अधिक उल्लिखीत किया जाता है। यह कुछ हद तक जापानी में विशिष्टता के समान अर्थ को व्यक्त करता है। उदाहरण के लिए यदि एक युवति किसी लड़के को एत्ची नाम से बुलाये तो यह चोंचलाने (फलर्ट) का अर्थ देता है जबकि हेनतई का उच्चरण तिरस्कार को निरूपित करता है।[6]

[...] Bezeichnet erotische Darstellungen. Im Vergleich zu Hentai weniger explizit.
[...] [एत्ची] कामुक चित्रण को दर्शाता है। हेनतई की तुलना में यह कम स्पष्ट है।
—Sebastian Keller, Der Manga und seine Szene in Deutschland von den Anfängen in den 1980er Jahren bis zur Gegenwart: Manga- mehr als nur große Augen[2]


सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Steiff, Josef; Tamplin, Tristan D. (2010). Anime and Philosophy. Popular Culture and Philosophy. Vol. 47. Open Court Puplishing. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 978-0-8126-9670-7.
  2. Sebastian Keller: Der Manga und seine Szene in Deutschland von den Anfängen in den 1980er Jahren bis zur Gegenwart: Manga- mehr als nur große Augen, GRIN Verlag, 2008, ISBN 978-3-638-94029-0, p. 127
  3. Robin E. Brenner: Understanding manga and anime. Libraries Unlimited, 2007, ISBN 978-1-59158-332-5, p. 89.
  4. Ask John: Why Do Americans Hate Harem Anime?. animenation.net. May 20. 2005. Note: fan service and ecchi refer to similar concepts.
  5. After the sources of the article Hepburn romanization. In Hepburn, the sokuon (っ, small tsu) is romanized t before ch.
  6. Jonathan Clements, Helen McCarthy: The anime encyclopedia: a guide to Japanese animation since 1917, Edition 2, Stone Bridge Press, 2006, University of California, ISBN 1-933330-10-4, p. 30