एडा लवलेस

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
एडा लवलेस
Ada, Countess of Lovelace
Ada Lovelace portrait.jpg
Ada, Countess of Lovelace, 1840
जन्म The Hon. Augusta Ada Byron
10 दिसम्बर 1815
London, England
मृत्यु 27 नवम्बर 1852(1852-11-27) (उम्र 36)
Marylebone, London, England
स्मारक समाधि Church of St. Mary Magdalene, Hucknall, Nottingham, England
प्रसिद्धि कारण गणित
कम्प्यूटिंग
पदवी Countess of Lovelace
जीवनसाथी William King-Noel, 1st Earl of Lovelace
बच्चे
माता-पिता

आगस्ता एडा किंग-नोएल, लवलेस की काउन्टेस (10 दिसम्बर 1815 – 27 नवम्बर 1852) एक अंग्रेज गणितज्ञ तथा लेखिका थीं। उन्होने चार्ल्स बैबेज द्वारा प्रस्तावित यांत्रिक जनरल-परपज कम्प्यूटर (एनालिटिकल इंजन) पर कार्य किया और सबसे पहले यह समझा कि यह मशीन 'शुद्ध गणना' के साथ साथ बहुत कुछ और भी कर सकती है। उन्होने इस प्रकार की मशीन पर चलने वाली प्रथम कलनविधि (अल्गोरिद्म) का भी निर्माण किया। इसी कारण माना जाता है कि एडा ही पहली व्यक्ति थीं जिसने 'कम्प्यूटिंग मशीन' की पूरी क्षमता को समझा। और ये भी माना जाता है कि वे दुनिया की एक पहली प्रोग्रामर थी।

एडा लवलेस लार्ड बायरन की एकलौती वैध्य बेटी थी और उनके माता का नाम Anne Isabella Milbanke की थी। लार्ड बायरन ने अपने पत्नी को एडा लवलेस के जन्म के एक महीने बाद अलग कर दिया। और 4 महीने बाद उन्होंने इंग्लैंड को हमेशा के लिए छोड़ दिया। बाद में उन्होंने अपने थोड़े से जीवन को स्वतंत्रता के लिए लड़ी जा रही ग्रीक युद्ध में भाग लेकर अपने को इस दुनिया से 36 साल की उम्र में सन 1824 में परलोक को सिधार गए। उनके माँ को लार्ड बायरन की स्वाभाव की ओर ध्यान गया और उन्होंने एडा लवलेस को गणित और लॉजिकल में उनका मन लगाने की कोशिश की, जिस पागलपन उन्होंने अपने पापा के आँखों में देखा था। जिसे उन्होंने मरते दम तक बनाये रखा। एडा का प्रारंभिक जीवन बीमारियों में बिता और उन्होंने सन 1835 में विलियम किंग से शादी कर ली। राजा ने सन 1838 में अंततः वहां की बेगम बन गई।