एकल परिपथ आरेख

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
एकल-लाइन आरेख जिसमें शक्ति प्रवाह भी दर्शाया गया है। लाल रंग के बक्से परिपथ विच्छेदक को निरूपित करते है जबकि धूसर (ग्रे) लाइनें ३-फेजी बस और अन्तःसंयोजी चालकों को। नारंगी रंग के वृत्त विद्युत जनित्र को निरूपित करते हैं, हरे रंग में प्रेरकत्व है, एक-दूसरे पर चढ़े हुए तीन नीले वृत्त दोहरी वाइण्डिंग वाले ट्रांसफॉर्मर हैम जिनमें तृतीयक सेकेण्डरी वाइण्डिंग भी हैं।
जर्मन भाषा में लिखी जानकारी वाला एक एकल-लाइन आरेख

शक्ति इंजीनियरी में एकल-लाइन आरेख (one-line diagram या single-line diagram / SLD), तीन-फेजी शक्ति परिपथों को सरलीकृत करके दिखाने वाला एक आरेख है[1] इसमें तीनों शक्ति-परिपथ के तीनों लाइनों में लगे अवयवों को दिखाने के बजाय एक ही लाइन (फेज) में जुडी हुई चीजें दिखायी जातीं हैं और मान लिया जाता है कि तीनों फेजों में उसी तरह के कनेक्शन हैं। इससे परिपथ बहुत सरल दिखता है और कोई भी जानकारी छिपाने की आवश्यकता नहीं होती। एकल-लाइन आरेख का सर्वाधिक उपयोग शक्ति प्रवाह अध्ययन (Power flow study) में किया जाता है। शक्ति परिपथ में लगाये जाने वाले परिपथ विच्छेदक, ट्रान्सफॉर्मर, संधारित्र, बस-बार, और चालक आदि अपने-अपने मानक प्रतीकों द्वारा दर्शाए जाते हैं। [1] वास्तव में यह ब्लॉक आरेख का ही एक रूप है।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. McAvinew, Thomas; Mulley, Raymond (2004), Control System Documentation, ISA, पृ॰ 165, आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 1-55617-896-4