उपक्रांतिक रिएक्टर

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
त्वरक-चालित रिएक्टर की योजना

जो नाभिकीय विखण्डन रिएक्टर बिना क्रान्तिक हुए भी सतत नाभिकीय विखण्डन प्रदान करे उसे उपक्रांतिक रिएक्टर (subcritical reactor) कहते हैं। इसमें शृंखला अभिक्रिया को बनाये रखने के लिए आवश्यक कुल न्यूट्रानों का कुछ भाग (जैसे ५%) किसी वाह्य स्रोत (जैसे स्पालेशन न्यूट्रान स्रोत) से लिया जाता है।

किसी कण त्वरक के साथ जुड़कर चलने वाला इस प्रकार का रिएक्तर त्वरक-चालित निकाय (Accelerator-driven system (ADS)) कहलाता है।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]