आरोह

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ

संगीत के नीचे के सुर से आरम्भ करके ऊपर के सुरों की ओर चढ़ते हुये जब आलाप लिया जाता है तो उसे आरोह कहते हैं। मुख्यतः आरोह शब्द संगीत से सम्बंधित है किन्तु उत्थान, विकास आदि का भाव दर्शाने के लिये इस शब्द का प्रयोग किया जाता है।


उदाहरण[संपादित करें]

  • सा रे ग म प ध नि सा
  • जीवन के आरोह अवरोह विधि के वश में है।

मूल[संपादित करें]

अन्य अर्थ[संपादित करें]

संबंधित शब्द[संपादित करें]

हिंदी में[संपादित करें]

  • [[ ]]

अन्य भारतीय भाषाओं में निकटतम शब्द[संपादित करें]