अणुजैविकी

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
(आण्विक जीवविज्ञान से अनुप्रेषित)
Jump to navigation Jump to search

अणुजैविकी (Molecular biology), अणुओं को कोशिका के सभी प्रणालियों के बीच जैव क्रियाओं का आधार मानकर चलती है तथा यह अध्ययन करती है कि ये अन्तःक्रियायें किस प्रकार नियंत्रित होतीं हैं। आणविक जीव विज्ञान एक जीव विज्ञान की एक शाखा है जो डीएनए, आरएनए, प्रोटीन और उनके जैवसंश्लेषण के बीच की बातचीत, साथ ही साथ इन अंतःक्रियाओं के नियमन सहित सेल के विभिन्न प्रणालियों में बायोमॉलिक्यूल के बीच जैविक गतिविधि के आणविक आधार की चिंता करता है। 1961 में प्रकृति में लेखन, विलियम एस्टबरी ने आणविक जीव विज्ञान के रूप में वर्णित किया:

इतिहास[संपादित करें]

जबकि आणविक जीवविज्ञान 1930 के दशक में स्थापित किया गया था, यह शब्द 1938 में वॉरेन वीवर द्वारा गढ़ा गया था। वीवर उस समय रॉकफेलर फाउंडेशन के लिए प्राकृतिक विज्ञान के निदेशक थे और उनका मानना ​​था कि जीव विज्ञान हाल के अग्रिमों में दिए गए महत्वपूर्ण बदलाव की अवधि से गुजरना था। एक्स-रे क्रिस्टलोग्राफी जैसे क्षेत्र। आणविक जीव विज्ञान से उत्पन्न नैदानिक ​​अनुसंधान और चिकित्सा उपचार आंशिक रूप से जीन थेरेपी के तहत आते हैं। चिकित्सा में आणविक जीव विज्ञान या आणविक कोशिका जीव विज्ञान दृष्टिकोण का उपयोग अब आणविक चिकित्सा कहा जाता है। आणविक जीवविज्ञान कोशिकाओं के विभिन्न भागों के निर्माण, कार्यों और नियमों को समझने में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है, जिसका उपयोग कुशलतापूर्वक नई दवाओं को लक्षित करने, रोग का निदान करने और कोशिका के शरीर विज्ञान को समझने में किया जा सकता है।

इन्‍हे भी देखे[संपादित करें]