अब्दुल खालिक हजारा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
अब्दुल खालिक हजारा
عبدالخالق هزاره
Abdul Khaliq.jpg
अब्दुल खालिक (१९३२ ई में)
जन्म 1916
Chindawol, काबुल, अफगानिस्तान
मृत्यु 18 दिसम्बर 1933(1933-12-18) (उम्र एक्स्प्रेशन त्रुटि: अनपेक्षित < ऑपरेटर।)
काबुल, अफगानिस्तान
मृत्यु का कारण शाही अफगान सेना द्वारा यंत्रणा देकर
अन्य नाम खालिको
خالقو
व्यवसाय छात्र
प्रसिद्धि कारण मोहम्मद नादिर शाह की हत्या

अब्दुल खालिक हजारा (फारसी : عبدالخالق هزاره) (1916 - दिसम्बर 18, 1933) एक हजारा छात्र था जिसने ८ नवम्बर १९३३ को पिस्तौल से गोली मारकर अफगानिस्तान के राजा मोहम्मद नादिर शाह की हत्या की थी। उस समय नादिर शाह पुरस्कार वितरण समारोह में पुरस्कार वितरण कर रहे थे। उसे तुरन्त पकड़ लिया गया और बहुत यंत्रणा दी गयी तथा अन्ततः उसके अधिकांश सम्बन्धियों सहित प्रताड़ित करते हुए मार दिया गया।

हाजरा लोग अब्दुल खालिक को शहीद मानते हैं। एक संकल्पना के अनुसार, नादिर शाह की हत्या का कारण सम्भवतः हाजरा लोगों पर लगाए गए कर तथा उनकी प्रताड़ना थी। [1]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Louis Dupree (14 July 2014). Afghanistan. Princeton University Press. पपृ॰ 476–. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 978-1-4008-5891-0. मूल से 12 मार्च 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 18 मई 2020.