अनूप चेतिया

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
अनूप चेतिया
जन्म गोलाप बरुआ
1957
जेरई गांव, तिनसुकिया, असम, भारत
उर्फ सुनील बरुआ,भाईजान या अहमद
आरोप

मारना
अपहरण
जबरन वसूली


आतंकवाद
दोषसिद्धि अवैध रूप से एक जाली पासपोर्ट का उपयोग करके बांग्लादेश में प्रवेश किया,
16 विभिन्न देशों से अवैध विदेशी मुद्रा का कब्जा,
हथियारों के अवैध कब्जे
सज़ा 7 साल की कारावास
स्थिति जमानत पर मुक्त

अनूप चेतिया भारत सरकार द्वारा प्रतिबंधित किए गए, असम में सक्रीय चरमपंथी संगठन युनाइटेड लिबरेशन फ्रंट ऑफ असम (उल्फा) के प्रमुख नेता हैं।[1]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "उल्‍फा नेता अनूप चेतिया की कहानी: बतौर अफसर मैच करवाने गया था मणिपुर, लौटा तो उग्रवादी बन कर". १२ नवम्बर २०१५. अभिगमन तिथि १३ नवम्बर २०१५.