अजूरा (उपकरण)

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
अजूरा प्रोटोटाइप का परीक्षण

अजूरा एक तरंग शक्ति उपकरण है, जिसका परीक्षण हवाई में किया जा रहा है।[1][2] यह ग्रिड से बिजली उपलब्ध कराने के लिए किया जा रहा है। संयुक्त राज्य अमेरिका के विभाग के अनुसार यह पहली बार है कि एक लहर ऊर्जा से विद्युत निर्मित किया जा रहा है और उत्तरी अमेरिका में विद्युत प्रदान हेतु आधिकारिक रूप से सत्यापित भी किया गया है। यह हवाई विश्वविद्यालय द्वारा सत्यापित किया गया है।[3][4] यह उपकरण 20 किलोवाट की शक्ति उत्पन्न करता है। [1][5]

विवरण और आपरेशन[संपादित करें]

अजूरा समुद्र के सतह पर तैरता है और इसका वजन 45 टन है। यह 360 डिग्री घूमते हुए तैरता है। इस तरह से तैरने से यह क्षैतिज रूप0 में भी अच्छी तरह से ऊर्जा प्राप्त कर पाता है।[5] बड़ी लहरों के समय यह आंशिक रूप से नीचे डूब भी जाता है।[6]

अजूरा एक बिंदु अवशोषक है। इसका मतलब यह है कि यह एक अस्थायी सतह तंत्र के द्वारा ऊर्जा के तरंगो को अवशोषित करने के लिए अलग अलग दिशाओं में घूमता है। यह सबसे आम प्रकार गहरे पानी का ऊर्जा निर्मित करने वाला यंत्र है।[7] यह जनरेटर उच्च दबाव वाले हाइड्रोलिक प्रणाली का उपयोग करता है।[7]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

  • लहर खेती

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "Innovative Wave Power Device Starts Producing Clean Power in Hawaii". Energy.gov.
  2. "NWEI Deploys Azura Wave Energy Device in Hawai'i". Subsea World News.
  3. "Azura connects in Hawaii". reNEWS - Renewable Energy News.
  4. Steve Dent. "Wave generator supplies US electrical grid for the first time". Engadget. AOL.
  5. "Azura wave energy system deployed in Hawaii". gizmag.com.
  6. "Ocean Energy - Azura wave energy device deployed at US Navy test site - Renewable Energy Magazine, at the heart of clean energy journalism". renewableenergymagazine.com.
  7. "Wave Energy Developers Line Up for Hawaii Test Site". Breaking Energy.

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]