सारंगढ़

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
==================[संपादित करें]
| नगर का नाम = सारंगढ़ (तहसील)
| प्रकार        = शहर
| latd      = 21.6 
| longd        = 83.08
| प्रदेश          = छत्तीसगढ़
| जिला          = रायगढ
| शासक पद         = सारंगढ़ क्षेत्र विध्याक{कांग्रेस}
| शासक का नाम     = श्रीमति पदमा बाई मनोहार
| शासक पद 2      = नगर पंचायत अध्यक्ष{कांग्रेस से भाजपा} 
| शासक का नाम 2 = श्रीमति चांम्पा बाई देवांगन
| ऊँचाई           = 217
| जनगणना का वर्ष  = 2009
| जनसंख्या   = 18,574
| जनगणना स्तर = 
| ग्राम पंचायत = 112
| घनत्व   = 
| क्षेत्रफल  = 
| दूरभाष कोड  = 07768
| पिनकोड      = 496445
| वाहन रेजिस्ट्रेशन कोड = सी जी 13   
| वेबसाइट   = http://raigarh.nic.in/
| रुपरेखा   = 

ग्राम पंचायत


  • अचनकपाली -
  • अमेठी
  • अमझर
  • अमलीदीपा
  • अमलीपाली अ
  • अमलीपाली ब
  • अनडोला
  • बाईगिनडीह
  • बारडुला
  • बासिनबहरा
  • बटाऊपाली अ
  • बटाऊपाली ब
  • भेंडीसार
  • भद्रा
  • भेडंवन
  • भिखापुरा
  • भोथली
  • बोईरडीह
  • बुडेली
  • बवालीनडीह
  • चंदाई
  • चांटीपाली
  • चवरपुर
  • छर्रा
  • छटाडीह
  • छिंद
  • छोटे गानतूली
  • छुहीपाली
  • दाबगांव
  • ददाईडीह
  • दहिदा
  • दानसरा
  • डोराभांटा
  • दोमाडीह
  • गनजयभोऊना
  • गानतूली बडें
  • गाटाडीह
  • घोथरा
  • घोटला बडें
  • घोटला छोटे
  • गोडा
  • गोडंम
  • गुधेली
  • गुधीरी
  • हर्दी
  • हिछा
  • हिर्री
  • जसरा
  • जशपुर
  • जेवरा
  • जीलदी
  • कनकबीरा
  • कलमी
  • कपारतुंगा
  • कपीसदा अ
  • कपीसदा ब
  • कटेली
  • केदार
  • खैरा छोटे
  • खजारी
  • खमारडीह
  • खरमहारपाली
  • खर्री बडे
  • खर्री छोटे
  • खारवानी बडे
  • खारवानी छोटे
  • खोकसीपाली
  • खूर्सी
  • कोसीर - मुख्य टाउन सारंगढ़ तहसील से दूर 9 किलोमीटर है.इसके जिला मुख्य शहर रायगढ़ से 38.8 किमी दूरी पर स्थित है. यह विशवास है कि यहाँ भगवान श्री राम के पुत्र कुश की राजधानी है
  • कोतरी
  • कोऊवाताल
  • कुधरी
  • कुम्हारी
  • कुर्रहा
  • कुटेला
  • लेन्धरा
  • लिमगांव
  • माधोपली
  • मल्दा
  • मल्दा ब
  • मोउहाधोधा
  • मुदिअदिह
  • मुडपार बडे
  • मुडपार छोटे
  • मुर्वाभाटा
  • नॉवरांगपुर
  • पचपेंडी
  • पहन्दा
  • परसकोल
  • परसदा बडे
  • परसदा छोटे
  • पसीद
  • फरसवानी
  • पेंन्डरी ब प
  • रानीसागर
  • रापागुला
  • रेडां
  • रिवापार
  • सहसपानी
  • सहसपुर
  • सालर
  • सालहे
  • सारंगढ़
  • सिघंनपुर
  • सिगांरपुर
  • सुलोनि
  • टांडीपार
  • थकुरदिआ
  • टिमारलगा
  • उच्चभिट्टी
  • उल्खर

[{संसद के सदस्य}]

                      1977: गोविन्दराम मिरि,  जनता पार्टी
                          1980: पारस राम भारद्वाज, भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस
                          1984: पारस राम भारद्वाज, भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस
                          1989: पारस राम भारद्वाज, भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस
                          1991: पारस राम भारद्वाज, भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस
                          1996: पारस राम भारद्वाज, भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस
                          1998: पारस राम भारद्वाज, भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस
                          1999: पीआर खुंटे,  भारतीय जनता पार्टी
                          2004: गुहाराम अजगले,  भारतीय जनता पार्टी
                          2009: विष्णु साय,  
 

[{प्रमुख अखबार}]

                                नवभारत, हरि भूमि, दैनिक भास्कर, इस्पात टाइम्स, केलो प्रवाह, नवीन कदम, जनकर्म, रायगद संदेश इत्यादि।

[{सारंगढ़ का इतिहास}]

                       (1) सारंगढ़ एक बहुत बड़ा शहर है' क्योंकि इस सारंगढ़ तहसील में सबसे पहले राजाओं का शासन काल था और यहाँ बहुत अधिक सँख्या में जमीनें और शासनिक शक्ति था। 
                                  किन्तु सबसे पहले सारंगढ़ क्षेत्र मध्यप्रदेश राज्य में स्थित था एवं मध्यप्रदेश में स्व राजा नरेश सिंह 13 दिनों के लिए तत्कालीन मुख्यमंत्री चुनें गये थे।         
                           (2) माना गया है कि यहाँ बाबा घासीदास के ग्यान भूमि के नाम से भी जाना जाता है। तथा इस क्षेत्र पर बास पेड़ अधिक मात्रा में थे।
                           (3) जिलें में पर्याटन के नजर से रायगढ से 52 किमी दूर सारंगढ कि काली माता के मन्दिर,65 किमी दूर कोसिर के कोशलाई ,26 किमी दूर चन्दपुर के चन्दराहासिनी तथा टिमरलगा के नाथलदाई।
                           (4) जिला केंद्र से 52 किमी दूर स्थित हैं, यह अ॰जा॰ के लिए विधान सभा रिजर्व हैं।
                           (5) सारंगढ़ संतनामीयो के गढ़ हैं, इस कारण से सतनामगढ़ कहलाया तथा समाज के प्रमुख लोग स्व भाईयाराम खुंटे पुर्व विधायक, स्व मनोहर दास, ग्यानदास जी हैं 
                                  जिन्होने सन्त शिरोमणी बाबा गुरु घासीदास जी ग्यान स्थली को पुरे राज्य मे ख्याति दिलाई।

[{नया खबर}] लेखकर्त्ता -विनोद ईजारदार

[[श्रेणी:छत्तीसगढ़ के शहर सारंगढ़ की विधान सभा बहुत अच्छा हैं लेकिन यह