बिलासपुर (छत्तीसगढ़)

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
बिलासपुर
—  जिला  —
समय मंडल: आईएसटी (यूटीसी+५:३०)
देश Flag of India.svg भारत
राज्य छत्तीसगढ़
ज़िला बिलासपुर
महापौर श्रीमती वाणी राव
जनसंख्या
घनत्व
२६,६३,६२९ (२०११ के अनुसार )
• ३२२
आधिकारिक भाषा(एँ) छत्तीसगढ़ी, हिन्दी, अंग्रेज़ी
क्षेत्रफल
ऊँचाई (AMSL)
८१७२ कि.मी²
• २६४ मीटर
आधिकारिक जालस्थल: bilaspur.gov.in

Erioll world.svgनिर्देशांक: 21°28′N 81°08′E / 21.47°N 81.14°E / 21.47; 81.14

बिलासपुर भारत के छत्तीसगढ़ राज्य का एक जिला है। इसका मुख्यालय बिलासपुर है जो राज्य की राजधानी रायपुर से १११ किमी. उत्तर में स्थित है तथा प्रशासनिक दृष्टि से राज्य का दूसरा सबसे प्रमुख शहर है। छत्तीसगढ़ राज्य का उच्च न्यायालय भी इसी शहर में स्थित है अतः इसे “न्यायधानी” होने का भी गौरव प्राप्त है।

बिलासपुर सुगंधित दूबराज चावल की किस्म के लिए भी प्रसिद्ध है। इसके अलावा यहाँ हथकरघा उद्योग से निर्मित कोसे की साड़ियाँ भी देशभर में विख्यात है। बिलासपुर सांस्कृतिक रूप से भी समृद्ध है और यहाँ की संस्कृति अनेक विविधताओं एवं रंगों को समाहित किये हुए है। इम्पीरियल गज़ेतिएर ऑफ़ इंडिया, खण्ड ८, १८०८ के अनुसार इस शहर का नाम 'बिलासपुर', सत्रहवीं शताब्दी की मत्स्य-महिला “बिलासा” के नाम पर पड़ा। बिलासपुर के बारे में माना जाता है की यह लम्बे समय तक मछुवारों की बस्ती रहा है।

इतिहास[संपादित करें]

ऐतिहासिक रूप से बिलासपुर, रतनपुर के कलचुरी राजवंश का भाग था। शहर का मूल रोप यद्यपि, १७७४ के आप-पास मराठा राजवंश के समय आया था। मराठा राजवंश ने यहाँ किलों का भी निर्माण भी प्रारंभ कराया था, हालाँकि वो कभी पूरा नहीं हो सका। सन१८५४ में ब्रिटिश सरकार की ईस्ट इंडिया कंपनी ने बिलासपुर का अधिग्रहण कर लिया इसके पूर्व यह मराठा आधिपत्य में था। बिलासपुर का अधिग्रहण तब अस्तित्व में आया जब इस क्षेत्र के भोंसले राजा (नागपुर राजवंश) निःसंतान मृत्यु को प्राप्त हो गए थे। बिलासपुर जिले का गठन १८६१ में हुआ तथा बिलासपुर नगर निगम १८६७ में अस्तित्व मैं आया। १९०१ में बिलासपुर की जनसँख्या १८,९३७ थी जो कि ब्रिटिश राज के केंद्रीय सूबे में आठवीं सबसे बड़ी थी।

भौगोलिक स्थिति[संपादित करें]

बिलासपुर २२.२३ अंश उत्तर तथा ८२.०८ अंश में स्थित है. समुद्री तल से इसकी औसत ऊंचाई२६४ मीटर (८६६ फीट) है. वर्षाधारित अरपा नदी इस जिले की जीवनरेखा मानी जाती है, जिसका उद्गम मध्य भारत के मैकल पर्वत श्रेणियों से होता है. बिलासपुर के उत्तर में कोरिया तथा शहडोल जिला, पश्चिम में मुंगेली, दक्षिण में बलोदाबज़ार-भाटापारा तथा पूर्व में कोरंबा एवं जांजगीर-चाम्पा जिले स्थित है.

जनसांख्यिकी[संपादित करें]

२०११ की जनसंख्या के अनुसार बिलासपुर की जनसंख्या 2,663,629 है जिसमे पुरुष 1,351,574 तथा महिलाएं 1,312,055 है. औसत साक्षरता 70.78% है. पुरुषो में 81.54% तथा महिलाओं में 59.71% साक्षर हैं. 15.31% जनसंख्या 6 वर्ष से नीचे की आयु की है[1]. बिलासपुर शहर का सञ्चालन बिलासपुर नगर पालिका निगम के अंतर्गत होता है.[2]

संस्कृति[संपादित करें]

भारतवर्ष में मनाये जाने वाले सभी त्यौहार हर्षोल्लास एवं धर्म-निरपेक्ष रूप से मनाये जाते है. स्थानीय पर्व जैसे कि सुआ-नृत्य, भोजली, रावत-नाच, पोला इत्यादि भी ग्रामीण क्षेत्रों में प्रचलित है |

अर्थव्यवस्था[संपादित करें]

ऊर्जा के क्षेत्र में बिलासपुर संभाग का देश में एक महत्वपूर्ण स्थान है. बिलासपुर और इसके आस-पास के क्षेत्रों के विद्युत-गृहों से लगभग १०,००० मेगावाट बिजली का उत्पादन होता है और इसे आने वाले वर्षों में ५०,००० मेगावाट तक करने का लक्ष्य रखा गया है. कोयला उत्पादन में बिलासपुर संभाग के कोरबा का विशिष्ट स्थान है. एस.ई.सी.ल का मुख्याल भी सीपत रोड बिलासपुर में स्थित है. एस.ई.सी.ल कोल इंडिया लिमिटेड की एक सहायक कंपनी है जिसे भारत सरकार के कोयला मंत्रालय से “मिनी-रत्न” कंपनी होने का दर्जा प्राप्त है. मुख्य बाज़ार गोल बाज़ार के नाम से जना जाता है. गोल-बाज़ार, सदर-बाज़ार और कंपनी गार्डन काफी व्यस्त क्षेत्र हैं. व्यापार-विहार एक नया विकसित क्षेत्र है जो कि एक महत्वपूर्ण आर्थिक और वस्तुओं के आदान-प्रदान का केंद्र है.

उद्योग: बिलासपुर के आस-पास कई औद्योगिक क्षेत्र हैं जिनमे तिफरा-सिरगिट्टी तथा सिलपहरी महत्वपूर्ण हैं. बी.ई.सी-खाद उद्योग –जो कि बी.ई.सी इंजीनियरिंग कारपोरेशन का एक अंग है, सिरगिट्टी औद्योगिक क्षेत्र में स्थित है. इसके अलावा यहाँ छत्तीसगढ़ लघु एवं सहायक उद्योग भी संचालित है.

उर्जा-गृह: बिलासपुर के सीपत में स्थित एन.टी.पी. सी. का उर्जा-गृह है कुल क्षमता २९८० मेगावाट की है.[3]. इसके अतिरिक्त नोवा, महानदी , गीतांजलि आदि के भी छोटे विद्युत् गृह हैं.

शौपिंग मॉल्स: सिटी -२६ (मंगला चौक) तथा रामा मैग्नेटो मॉल (श्रीकांत वर्मा मार्ग) में स्थित है. सत्यम-चौक के पास ही बिग-बाज़ार भी स्थित है. कुछ नए मॉल (सिटी सेन्टर तथा रामा आर्किड मॉल)भी निर्माणाधीन हैं. रामा मैग्नेटो मॉल में ही चार पर्दों वाला पी.व्ही.आर सिनेमाघर भी है. इसी प्रकार सिटी-३६ मॉल में ग्लित्ज़ सिनेमा घर भी है.

आवागमन[संपादित करें]

रेलवे[संपादित करें]

बिलासपुर रेलवे स्टेशन छत्तीसगढ़ के व्यस्ततम रेलमार्गों में से एक है और मध्य भारत में चौथा सबसे व्यस्त रेलमार्ग है. दक्षिण-पूर्व-मध्य रेलवे जोन का मुख्यालय भी बिलासपुर में ही स्थित है. यह भारत के लगभग सभी राज्यों से रेल मार्ग द्वारा जुदा हुआ है. राजधानी एक्सप्रेस बिलासपुर से नयी दिल्ली को जोडती है. बिलासपुर स्टेशन हावरा-मुंबई मार्ग के टाटानगर-बिलासपुर सेक्शन का एक मुख्य स्टेशन है. दूसरी महवपूर्ण रेल लाइन बिलासपुर-कटनी है. अन्य मुख्य रेलवे स्टेशन हैं:

  • उस्लापुर
  • चकरभाटा
  • दाधापारा
  • गतोरा

बिलासपुर में ही दक्षिण-पूर्व-मध्य रेलवे का मुख्यालय भी है, जिसके अंतर्गत बिलासपुर, रायपुर एवं नागपुर मंडल आते हैं. [4]

बस[संपादित करें]

बिलासपुर से राज्य के लगभग सभी हिस्सों को जोड़ने के लिए बस सेवाएं उपलब्ध हैं. अंतर्राज्यी बस सुविधा भी उपलब्ध है जो की देश के विभिन्न राज्यों से बिलासपुर को जोड़ता है. हाल ही में बढ़ते हुए यातायात को देखते हुए एक नया बस-अड्डा बोदरी नामक स्थान में स्थापित लिया गया है. इसमें उपलब्ध सुविधाओं के कारण इसे हाई-टेक बस अड्डा कहा जाता है. शहर के मुख्य मार्गों पर सिटी-बस की सुविधा भी शुरू की गयी है.

सड़क यातायात[संपादित करें]

बिलासपुर राष्ट्रीय राजमार्ग जाल के द्वारा मुंबई तथा कोलकाता से जुडा हुआ है. राष्ट्रीय राजमार्ग क्रमांक -२०० इसे रायपुर तथा रायगढ़ से जोड़ता है. राष्ट्रीय राजमार्ग क्रमांक -१११ बिलासपुर से प्रारंभ होता है जो कि अंबिकापुर तथा वाराणसी को जोड़ता है. अन्य राजकीय राजमार्गों में राजमार्ग ७ बिलासपुर से जबलपुर को जोड़ता है व्हाया मुंगेली-कवर्धा-मंडला तथा राजकीय राजमार्ग ५ बिलासपुर को अमरकंटक-शहडोल-अलाहाबाद से जोड़ता है. स्थानीय यातायात के लिए ऑटो-रिक्शा या फिर मानव् चालित रिक्शा भी उपलब्ध हैं. हालाँकि सुनियोजित योजना के अभावों के कारण यातायत में बाधा एक आम समस्या बनी हुई है.

पर्यटन-आकर्षण[संपादित करें]

  • मल्हार-ऐतिहासिक महत्व
  • अमरकंटक-नर्मदा और सोन नदी का उद्गम
  • कानन-पेंडारी चिड़ियाघर
  • ताला गाँव-रूद्र शिव की प्रतिमा
  • रतनपुर का महामाया मन्दिर
  • अय्यप्पा मन्दिर, तिफरा पुल के पास
  • खुडिया एवं खुताघट बाँध, रतनपुर
  • रानी सटी मन्दिर
  • मनोरंजन पार्क:

बबल आइलैंड

राधिका वाटर पार्क

'अचानकमार वाइल्डलाइफ सेंचुरी एवं टाइगर रिज़र्व

बिलासपुर शहर के भीतर दर्शनीय स्थान[संपादित करें]

  • विवेकानंद उद्यान
  • दीनदयाल उद्यान
  • उर्जा-पार्क
  • स्मृति-वन
  • यातायात-पार्क (बिलासपुर-सीपत रोड के लगरा ग्राम में स्थित)
  • बिलासा ताल
  • रामकृष्ण आश्रम (कोनी)

शिक्षा[संपादित करें]

समय के साथ बिलासपुर छत्तीसगढ़ के एक शिक्षा-केंद्र के भी रूप में उभरा है. बिलासपुर के मुख्य विश्वविद्यालयओं एवं महाविद्यालयों का विवरण निम्नानुसार है :

विश्वविद्यालय[संपादित करें]

  • गुरु घासीदास केंद्रीय विश्वविद्यालय, कोनी [5]
  • बिलासपुर विश्वविद्यालय,सेंदरी [6]
  • पंडित सुन्दरलाल शर्मा (मुक्त) विश्वविद्यालय [7]
  • सी.व्ही.रमन विश्वविद्यालय, कोटा [8]

महाविद्यालय[संपादित करें]

  • छितानी-मितानी दुबे महाविद्यालय, लिंक रोड [9]
  • पंडित द्वारिका प्रसाद विप्र महाविद्यालय, पुराना हाई कोर्ट रोड [10]
  • ठाकुर छेदीलाल बेरिस्टर कृषि महाविद्यालय, कोनी
  • बिलासा कन्या महाविद्यालय, सिविल लाइन्स
  • ई.राघवेन्द्र राव विज्ञान महाविद्यालय, सीपत रोड
  • शासकीय माता शबरी महाविद्यालय नवीन कन्या महाविद्यालय
  • जमुना प्रसाद महाविद्यालय
  • शान्ति निकेतन महाविद्यालय
  • डी.एल.एस. महाविद्यालय

चिकित्सा महाविद्यालय[संपादित करें]

  • छत्तीसगढ़ आयुर्विज्ञान संस्थान[11]
  • त्रिवेणी दन्त चिकित्सा महाविद्यालय

अभियांत्रिकी महाविद्यालय[संपादित करें]

  • गवर्नमेंट इंजीनियरिंग कॉलेज, बिलासपुर [12]
  • चौकसी अभियांत्रिकी महाविद्यालय, मस्तुरी रोड, लालखदान[13]
  • जे.के. इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी [14]
  • लख्मी चंद इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी [15]

प्रमुख विद्यालय[संपादित करें]

  • सरस्वती शिशु मन्दिर, तिलक नगर
  • सरस्वती शिशु मन्दिर, अशोक नगर
  • सरस्वती शिशु मन्दिर, राजकिशोर-नगर
  • सरस्वती शिशु मन्दिर, जुना-बिलासपुर
  • डी.ए.व्ही. पब्लिक स्कूल, वसंत विहार
  • बाल –भारती पब्लिक स्कूल एन.टी.पी.सी, सीपत
  • दिल्ली पब्लिक स्कूल
  • दी जैन इंटरनेशनल स्कूल, मुंगेली रोड, सकरी
  • भारत माता इंग्लिश मध्यम स्कूल, रेलवे परिक्षेत्र
  • बर्जेश इंग्लिश मध्यम स्कूल
  • ब्रिलियंट पब्लिक स्कूल
  • महर्षि विद्या मन्दिर, मंगला
  • मिशन स्कूल
  • सेंट जेविएर्स स्कूल
  • सेंट फ्रांसिस स्कूल
  • सेंट जोसेफ स्कूल

शासकीय विद्यालय

  • जवाहर नवोदय विद्यालय,मल्हार
  • केंद्रीय विद्यालय, तोरवा
  • शासकीय बहुउद्देशीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय, गाँधी-चौक
  • लाला बहादुर शास्त्री उच्चतर माध्यमिक विद्यालय,
  • देवकी नंदन कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय,
  • कन्या-शाला, सरकंडा
  • लाला लाजपत राय विद्यालय, खपरगंज
  • तारबहार शासकीय विद्यालय, तारबहार
  • पंडित रामदुलारे दुबे उच्चतर माध्यमिक, सरकंडा

छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय[संपादित करें]

छत्तीसगढ़ के उच्च न्यायालय का गठन मध्य-प्रदेश पुनर्गठन नियम, २००० से हुआ तथा इसे देश के १९वें उच्च-न्यायालय के रूप में मान्यता मिली. प्रथम मुख्य न्यायधीश श्री आर.एस. गर्ग थे. वर्तमान में यहाँ जजों के १८ पद स्वीकृत हैं. इसकी कोई खंडपीठ नहीं है. वर्तमान मुख्य न्यायधीश श्री यतीन्द्र सिंह जी हैं.[16]

रेडियो-स्टेशन[संपादित करें]

१. आकाशवाणी १०३.२ मेगाहर्ट्ज़ २. ९४.३, माई-एफ-एम, प्राइवेट रेडियो स्टेशन

संदर्भ[संपादित करें]

  1. "Basic Statistics of Bilaspur". census2011.co.in. http://www.census2011.co.in/census/district/491-bilaspur.html. अभिगमन तिथि: 2013-10-05. 
  2. "बिलासपुर नगर निगम". bmcbilaspur.com. http://www.bmcbilaspur.com/. अभिगमन तिथि: 2013-10-06. 
  3. "एन.टी.पी. सी., सीपत". http://www.ntpc.co.in. http://www.ntpc.co.in/index.php?option=com_content&id=402&Itemid=83. अभिगमन तिथि: 2013-10-06. 
  4. "दक्षिण-पूर्व-मध्य रेलवे, बिलासपुर". secr.indianrailways.gov.in. http://www.secr.indianrailways.gov.in/. अभिगमन तिथि: 2013-10-06. 
  5. "गुरु घासीदास केंद्रीय विश्वविद्यालय, बिलासपुर". गुरु घासीदास केंद्रीय विश्वविद्यालय. http://www.ggu.ac.in. अभिगमन तिथि: 2013-10-06. 
  6. "बिलासपुर विश्वविद्यालय, बिलासपुर". बिलासपुर विश्वविद्यालय. http://www.bilaspuruniversity.ac.in. अभिगमन तिथि: 2013-10-06. 
  7. "पंडित सुन्दरलाल शर्मा (मुक्त) विश्वविद्यालय". पंडित सुन्दरलाल शर्मा (मुक्त) विश्वविद्यालय. http://www.pssou.ac.in. अभिगमन तिथि: 2013-10-06. 
  8. "सी.व्ही.रमन विश्वविद्यालय, कोटा". सी.व्ही.रमन विश्वविद्यालय, कोटा. http://cvru.ac.in. अभिगमन तिथि: 2013-10-06. 
  9. "छितानी-मितानी दुबे महाविद्यालय". cmdpgcollege.in. http://cmdpgcollege.in/site/. अभिगमन तिथि: 2013-10-06. 
  10. "पंडित द्वारिका प्रसाद विप्र महाविद्यालय". पंडित द्वारिका प्रसाद विप्र महाविद्यालय. http://www.vipraeducationcollege.com/. अभिगमन तिथि: 2013-10-06. 
  11. "सिम्स, बिलासपुर". छत्तीसगढ़ आयुर्विज्ञान संस्थान. http://www.cimsbilaspur.ac.in/site/. अभिगमन तिथि: 2013-10-06. 
  12. http://www.gecbsp.ac.in/
  13. http://www.cecbilaspur.ac.in/
  14. http://www.jkedugroup.com/
  15. www.lcitbilaspur.com/
  16. http://highcourt.cg.gov.in/

बाहरी कड़ियां[संपादित करें]