विकिपीडिया:स्वशिक्षा/रूपरंग

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
परिचय   सम्पादन   रूपरंग   विकिपीडिया जोड़   सन्दर्भ और स्रोत   संवाद पृष्ठ   ध्यान रखें   पंजीकरण   जाते-जाते    
विकिपीडिया लेखों में शब्दों और वाक्यांशों के अक्षरों को गाढ़ा और तिरछा कैसे करें (अंग्रेज़ी में)

किसी विकिपीडिया के लेख की लिखाई के रूपरंग को निर्धारित करने का तरीक़ा ज़्यादातर मिलने वाले शब्द संसाधकों (वर्ड प्रोसैसरों) से अलग है। विकिपीडिया पर देखो सो पाओ (यानी विज़ीविग या WYSIWYG) प्रणाली का इस्तेमाल नहीं होता। इसमें किसी पन्ने पर अक्षर गाढ़े-तिरछे करने के लिए और शीर्षकों को दर्शाने के लिए विशेष चिह्नों और शब्दों का प्रयोग होता है। इन चिह्नों और शब्दों की भाषा को "विकि मार्कअप" या "विकीटॅक्स्ट" भाषा कहते हैं। सुनने में यह भले ही कठिन लगे लेकिन वास्तव में इस भाषा का प्रयोग बहुत ही आसान है।

गाढ़ी और तिरछी लिखाई

सब से ज़्यादा प्रयोग होने वाले चिह्न गाढ़े अक्षरों (यानी बोल्ड) और तिरछे अक्षरों (यानी आईटैलिक्स) के चिह्न होते हैं। किसी शब्द, वाक्यांश या वाक्य को गाढ़ा या तिरछा उसके इर्द-गिर्द वर्ण-लोपों (यानी अपॉस्ट्रॉफ़ीयों) के चिह्न (') के प्रयोग से होता है:

अगर आपने लिखा तो आपको मिलेगा
''तिरछा'' तिरछा

'''गाढ़ा'''

गाढ़ा

'''''गाढ़ा और तिरछा'''''

गाढ़ा और तिरछा

विकिपीडिया का दस्तूर है कि किसी भी लेख का नाम जब प्रथम दफ़ा लेख में आता है तो उसे गाढ़े अक्षरों में लिखा जाता है। मिसाल के लिए, आयो (उपग्रह) का लेख इस तरह आरम्भ होता है:

आयो हमारे सौर मण्डल के पाँचवे ग्रह बृहस्पति का तीसरा सब से बड़ा उपग्रह है और यह पूरे सौर मंडल का चौथा ...

तिरछे अक्षरों का प्रयोग अक्सर किताबों, फ़िल्मों, कंप्यूटर खेलों, इत्यादि के शीर्षकों के लिए होता है। अगर लेख का विषय ही किसी फ़िल्म या पुस्तक का शीर्षक है तो गाढ़े और तिरछे अक्षरों का प्रयोग किया जा सकता है।

बिना किसी वजह के गाढ़े या तिरछे अक्षरों का प्रयोग करने से परहेज़ करें क्योंकि इस से साधारण पाठकों को लेख पढ़ने में कठिनाइयाँ होती हैं, और वे अक्सर ऐसे लेखों को जल्दी से देखकर अन्य किसी पन्ने कि ओर चले जाते हैं।

शीर्षक और उपशीर्षक

किसी भी लेख की व्यवस्था को अच्छा बनाने के लिए शीर्षकों और उपशीर्षकों से बड़ा फायदा होता है। अगर आप देखते हैं के किसी लेख में दो या उस से अधिक विषयों पर बात हो रही है और हर विषय पर एक-दो से अधिक अनुच्छेद हैं, तो प्रत्येक विषय के लिए शीर्षक डालने से (यानि हर विषय का अलग उपभाग बनाने से) लेख अधिक पढ़ने के लायक़ हो जाता है। शीर्षक और उपशीर्षक ऐसे बनाए जाते हैं:

अगर आपने लिखा तो आपको मिलेगा

==शीर्षक==

शीर्षक

===उपशीर्षक===

उपशीर्षक

ध्यान रखिये के बिना किसी सामग्री के शीर्षक और उपशीर्षक बनाने से लेख पढ़ना मुश्किल हो जाता है। ऐसे लेख ऐसे लगते हैं जैसे किसी समाचारपत्र में सुर्ख़ियाँ ही सुर्ख़ियाँ हो और उनके नीचे कोई ख़बर न लिखी हो।

अगर किसी लेख में चार या उस से अधिक शीर्षक हैं, तो उसमें अपने-आप ही एक अनुक्रम सूची बन जाती है। आइये, इस पन्ने के प्रयोगस्थल में कुछ शीर्षक और उपशीर्षक बनाकर देखिये!

एच टी ऍम ऍल

विकिपीडिया के लेखों के रंगरूप निर्धारित करने के लिए एच.टी.एम.एल. जानने की बिलकुल कोई आवश्यकता नहीं है। केवल विकि मार्कअप का प्रयोग ही काफ़ी है। फिर भी अगर आप पृष्ठों या अनुच्छेदों के अकार, अक्षरों के रंगों, इत्यादि में बारीक़ फेर-बदल करना चाहते हैं तो इसमें एच.टी.एम.एल. की जानकारी सहायक होगी।

दृष्टिबाधित साथी इस संबंध में और जानने के लिए दृष्टिबाधितार्थ पृष्ठ भी देख सकते हैं।

इन सीखों को प्रयोगस्थल में आज़माइए


चलिए अब विकिपीडिया जोड़ों (लिंकों) के बारे में सीखें