रग्बी फुटबॉल

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

रग्बी फुटबॉल (आम तौर पर केवल “रग्बी ”) वर्तमान में दो खेल-रूपों में है- रग्बी लीग या रग्बी यूनियन अथवा युनाइटेड किंगडम के विभिन्न इलाकों में विकसित फुटबॉल के एक समान्य रूप से निकले हुए अनेक खेल रूपों में से एक है।

इतिहास[संपादित करें]

इन्हें भी देखें: History of rugby union एवं History of rugby league
रग्बी स्कूल का मैदान जहां पौराणिक कथा के अनुसार खेल का आविष्कार किया गया था।

रग्बी फुटबॉल रग्बी स्कूल में खेले जाने वाले फुटबॉल से विकसित हुआ है और मूल रूप से यह 19वीं शताब्दी के दौरान इंग्लिश पब्लिक स्कूलों में खेले जाने वाले फुटबॉल के विभिन्न रूपों में से एक था।

फुटबॉल के उस खेल में जो रग्बी स्कूल में 1750 और 1859 के बीच खेला जाता था बॉल को हाथ से फेकने की अनुमति थी लेकिन किसी भी खिलाड़ी को यह छूट नहीं थी कि वह अपने विरोधी पक्ष के गोल की तरफ बॉल को हाथ में लेकर दौड़े. प्रत्येक पक्ष में कितने खिलाड़ी खेलेंगे यह तय नहीं होता था और कभी-कभी तो एक प्रकार के विशाल रॉलिंग मॉल में सैकड़ों भाग लेते थे। अक्सर इस खेल में खिलाड़ियों को गम्भीर चोटें आती थीं। बॉल के साथ दौड़ने की शुरुआत 1859 और 1865 के बीच किसी समय हुई थी। विलियम बेव एलिस को इस बात का श्रेय जाता है कि 1823 में बॉल के साथ सामने की ओर दौड़कर उन्होंने स्थानीय नियमों को तोड़ा. इसके कुछ दिन बाद इस खेल के लिए लिखित नियम बनाए गए जो पहले स्थानीय आपसी समझौतों के आधार पर खेला जाता था। रग्बी स्कूल के लड़कों ने 1870 में अपने खेल के लिए पहला लिखित नियम बनाया.

इस समय तक रग्बी के हेडमास्टर डॉ॰ थॉमस आर्नल्ड का बढ़ता हुआ प्रभाव अन्य सभी पब्लिक स्कूलों में महसूस किया जाने लगा था और संतुलित शिक्षा के एक अंग के रूप में खेल पर उनके द्वारा बल दिए जाने से स्वाभाविक रूप से देश भर में और आखिरकार दुनिया भर में रग्बी के नियमों को सामान्य रूप से स्वीकार करने को बढ़ावा मिला.[1][2]

विभिन्न देशों में रग्बी कोड की स्थिति[संपादित करें]

रग्बी यूनियन एक व्यावसायिक तथा शौकिया दोनों प्रकार का खेल है और इसमें दक्षिण अफ्रीका, अर्जेंटीना, ऑस्ट्रेलिया, इंगलैंड, फ्रांस, आयरलैंड, इटली, न्यूजीलैंड, स्कॉटलैंड तथा वेल्स जैसे पहले क्रम के यूनियनों का राज चलता है। दूसरे तथा तीसरे क्रम में आते हैं: कनाडा, चिली, फीजी, जॉर्जिया, जापान, नामीबिया, पुर्तगाल, रोमानिया, समोया, स्पैन, टोंगा, संयुक्त राज्य अमेरिका तथा उरुगवे. रग्बी यूनियन का संचालन अंतर्राष्ट्रीय रग्बी बोर्ड (आइआरबी) द्वारा किया जाता है, जिसका मुख्यालय आयरलैंड के डब्लिन में स्थित हैं। यह न्यूजीलैंड, दक्षिण अफ्रीका, वेल्स, फीजी, समोआ, टोंगा तथा मेडागास्कर का राष्ट्रीय खेल है और दुनियाभर में रग्बी का सर्वाधिक लोकप्रिय रूप है,[3] जिसमें खेल के सेवन-ए-साइड संस्करण को ‘रग्बी सेवन’ कहते हैं, जिसे रियो डी जेनेरियो में होने वाले वर्ष 2016 के ओलम्पिक खेल के बाद से इसे खेल कार्यक्रम में स्वीकार कर लिया है।[4] यह भी संभावना है कि वर्ष 2012 में लंदन ओलम्पिक में ‘रग्बी सेवन्स’ एक प्रदर्शन खेल बने. रग्बी यूनियन का फिफ्टीन-ए-साइड संस्करण पिछली बार वर्ष 1924 में पेरिस ओलम्पिक में खेला गया, जिसमें फ्रांस को 17-3 से हराकर अमेरिका ने स्वर्ण पदक पर अपना कब्जा जमाया.[5]

रग्बी लीग भी एक व्यावसायिक तथा शौकिया दोनों प्रकार का खेल है, जिसका संचालन अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर रग्बी लीग इंटरनैशनल फेडरेशन द्वारा किया जाता है। अमेरिका, रूस, लेबनान, यूरोपीय देशों और ऑस्ट्रेलिया की कई सारी शौकिया तथा अर्ध-व्यावसायिक प्रतियोगिता के अलावा पूरी दुनिया में इसकी दो प्रमुख व्यावसायिक प्रतियोगिताएं हैं- ऑस्ट्रेलियाई नैशनल रग्बी लीग तथा यूपियन सुपर लीग.

कानून[संपादित करें]

Further information: Comparison of rugby league and rugby union

दोनों रग्बी कोड की सामान्य विशिष्टताओं में शामिल हैं ‘ऑवर बॉल’ और ‘बैन ऑन पासिंग द बॉल’ (बॉल को आगे पास करने पर रोक), ताकि खिलाड़ी अपना स्थान केवल बॉल के साथ भाग कर या इसे किक कर बना सकें. जैसे-जैसे रग्बी का खेल इसके विपक्षी यूनियन से आगे बढ़ा, इसके बदले हुए नियमों को लागू किया गया ताकि यह तेज गति वाला, ज्यादा प्रयास-आधारित खेल बन सके.

लीग में 13 और यूनियन में 15 खिलाड़ियों के होने के अलावा दोनों खेलों के दो प्रमुख अंतर ये हैं कि, इनमें टैकल होते हैं और उसके परिणाम इस प्रकार होते हैं:

  • टैकल के बाद यूनियन खिलाड़ी अपने अधिकार (पजेजन) के लिए मुकाबला करते हैं: स्थिति के आधार पर, रक (ruck) या मॉल (maul) हो सकता है। टैकल के बाद लीग खिलाड़ी पजेजन का मुकाबला नहीं कर सकते हैं: खेल प्ले-द-बॉल के साथ खेल जारी रहता है।
  • लीग में पजेजन वाली टीम यदि 6 टैकल के सेट के पहले स्कोर बनाने में असफल रहती है तो वह अपना पजेजन छोड़ देगी. यूनियन में 6 टैकल का नियम नहीं होता; टीम बॉल को स्कोर से पहले असीमित टैकल के लिए तब तक रख सकती है, जब तक कि यह पजेजन बनाए रखे और आक्रमण न कर दे.

यूनियन कोड के सेट पीसेस में स्क्रम (scrum) शामिल होता है, जहां विरोधी खिलाड़ियों के झुंड अधिकार (पजेजन) और लाइनआउट के लिए एक-दूसरे को धक्का देते हैं, जहां हरेक टीम के खिलाड़ियों की समानांतर रेखाएं टच से फेंके हुए बॉल को पकड़ने के लिए टच-लाइन प्रयास के लंबवत व्यवस्थित रहते हैं।

लीग कोड में स्क्रम अब भी मौजूद है, पर इसका महत्व काफी कम हो गया है, क्योंकि इसके कुछ ही खिलाड़ी शामिल होते हैं और इसमें विरले ही मुकाबला किया जाता है, जिससे स्क्रम एकेडमिक का निर्माण होता है। सेट के खंड (सेट पीस) सामान्यतः प्ले-द-बॉल स्थिति से आरंभ किया जाता है। कई सारे रग्बी लीग पोजिशन में रग्बी यूनियन पोजिशन जैसे ही नाम और जरूरतें होती हैं पर रग्बी लीग में कोई फ्लैन्कर नहीं होता.

संस्कृति[संपादित करें]

कई रग्बी खेलने वाले देश में रग्बी यूनियन को व्यापक रूप से ‘स्थापित’ खेल माना जाता है, जिसे उच्च तथा मध्यम वर्गों के सदस्यों द्वारा खेला जाता है। उदाहरण के लिए निजी स्कूलों तथा ग्रामर स्कूलों के कई छात्र रग्बी यूनियन खेलते हैं।[6] वही इसके विपरीत, रग्बी लीग पारंपरिक रूप से काम-रोजगार वाले वर्गों का पसंद रहा है। इस परंपरा का अपवाद इंग्लैंड तथा वेल्स के पड़ोसी देश में देखने को मिलता है। इंग्लैंड में रग्बी यूनियन पब्लिक स्कूल सिस्टम से संबंधित है। वेल्स में रग्बी छोटी ग्रामीण टीमों से जुड़ा है, जिनमें कोयले के खदान तथा अन्य औद्योगिक संस्थानों में काम करने वाले लोग शामिल हैं, जो अपने खाली दिनों में खेलते हैं।[7] आयरलैंड में, खासकर लिंस्टर में रग्बी यूनियन निजी शिक्षण तथा "D4" रूढ़िबद्ध धारणा से भी जुड़ा है और बेकार, अज्ञानता वाली, धनाड्य रग्बी के मजाकिया खेल की इस छवि के कारण ही बेस्ट-सेलिंग उपन्यास रोस ओ’कैरॉल केली को प्रेरणा मिली. ऑस्ट्रेलिया में दोनों कोड न्यू साउथ वेल्स, क्वींसलैंड तथा ऑस्ट्रेलियन राजधानी क्षेत्र (देखिए- बारासी लाइन) में संकेंद्रित हो गए हैं। इंग्लैंड में मौजूद दोनों खेलों के बीच ऐसा ही वर्ग अवरोध इन राज्यों में भी उत्पन्न हो गया है, जो रग्बी यूनियनों के आधिपत्य और निजी स्कूलों के बढ़ावा द्वारा उत्पन्न हुआ है।[8]

उपरोक्त के अलावा न्यूजीलैंड, वेल्स, पेरिस को छोड़कर फ्रांस, कॉर्नवाल, ग्लोसेस्टरशायर, सोमरसेट, (देखें-मुन्स्टर), स्कॉटलैंड का सीमावर्ती इलाका, आयरलैंड में लिमरिक (देखें-मुन्स्टर) तथा पेसिफिक आइलैंड शामिल हैं, जहां रग्बी यूनियन कामगार समुदायों के लोगों में लोकप्रिय है। तथापि, उत्तरी इंग्लैंड तथा न्यू साउथ वेल्स[9] और क्वींसलैंड के ऑस्ट्रेलियाई राज्यों में रग्बी लीग को कामगार समुदाय के खेल के रूप में ही जाना जाता है।[8]

युनाइटेड किंगडम में रग्बी यूनियनों के प्रशंसक कभी-कभी इस खेल के नाम के विकल्प के रूप में “रगर” (देखिए- ऑक्स्फोर्ड ‘-er’) शब्द का इस्तेमाल करते हैं।

  • ओईडी: रगर "स्लैंग या रग्बी का बोलचाल का परिवर्तित रूप (‘रग्बी फुटबॉल’ के अर्थ में), कई बार ‘रगर-टैकल’ के नाम से पुकारा जाता है।
  • टोनी कॉलिंस, फुटबॉल, रग्बी, रगर ?, (लिखित ट्रांसक्रिप्ट के साथ BBC साउंड रिकॉर्डिंग और ब्रिटिश लाइब्रेरी साउंड आर्काइव्स के इंग्लिश एक्सेंट और डायलैक्ट के क्यूरेटर जॉनी रॉबिंसन के पद्य में एक टिप्प्णी) न्यूजीलैंड के निवासी रग्बी को सामान्यतः “फूटी” या “फुटबॉल” के नाम से पुकारते हैं, वहीं रग्बी यूनियन के लिए वे “रग्बी” या “यूनियन” का इस्तेमाल करते हैं; रग्बी लीग के लिए वे “रग्बी लीग” या “लीग” का प्रयोग करते हैं।[10] अमेरिका में रग्बी खेलने वालों को कभी-कभी “रगर्स” कहते हैं, जिस शब्द का प्रयोग इसके अलावा किसी दूसरे रूप से विरले ही हुआ है।

ऐसे लोग जो रग्बी यूनियन के लाइफस्टाइल में काफी जोर-शोर से शामिल होते हैं- जिनमें शराब पीने की गहरी आदत और स्ट्रिप्ड जम्पर्स शामिल हैं, कभी-कभी उन्हें “रगर बगर्स” भी कहते हैं। यूके तथा आयरलैंड में एक पुरानी कहावत है, “रग्बी एक ऐसा बर्बर खेल है जिसे सभ्य लोग खेलते हैं। पर फुटबॉल सभ्य लोगों का एक ऐसा खेल है, जिसे बर्बर लोगों द्वारा खेला जाता है।”[11]

रग्बी बॉल[संपादित करें]

इन्हें भी देखें: Football (ball)#Rugby football

रग्बी यूनियन में अंतर्राष्ट्रीय रग्बी बोर्ड द्वारा नियम-2 के तहत बॉल के साइज़ और स्वरूप को विनियमित किया जाता है। एक आधिकारिक रग्बी यूनियन बॉल अंडाकार होता है और चार पैनलों का बना होता है। इसकी लम्बाई 280-300 मिमी, परिधि (एक छोर से दूसरी छोर तक) 740-770 मिमी और परिधि (मोटाई के रूप में) 580-620 मिमी होती है। यह चमड़े अथवा किसी उपयुक्त सिंथेटिक पदार्थ का बना होता है और जल-निरोधी और आसानी से पकड़ा जा सकने वाला होता है। रग्बी बॉल का वजन 460 ग्राम से अधिक और 410 ग्राम से कम नहीं होना चाहिए और इसमें हवा का दबाव 65.71- 68.75 किलो पास्कल अथवा 0.67 – 0.70 किग्रा प्रति वर्ग सेमी अथवा 9.5 – 10.0 lbs प्रति वर्ग इंच होता है।[12] अतिरिक्त बॉलों को ऐसी स्थिति में रखी जाती है कि खिलाड़ी अथवा टीम बॉल के बदलने से कोई फायदा न उठा सकें. छोटे साइज़ के बॉल बाल खिलाड़ियों के लिए भी उपयोग में लाए जा सकते हैं।

रग्बी शर्ट[संपादित करें]

रग्बी शर्ट पहले सूती हुआ करती थी लेकिन अब यह सूती और पॉलीएस्टर मिश्रित होती है। इस पदार्थ की यह खूबी है कि यह सिर्फ सूती की तरह पानी अथवा कीचड़ को अधिक नहीं सोखता है।

खेले जा रहे रग्बी के प्रकार के अनुसार रग्बी के जर्सी कुछ अलग-अलग प्रकार के होते हैं। रग्बी लीग के खिलाड़ियों द्वारा पहनी जानी वाली शर्ट में गले पर एक बड़ा-सा "V" होता है और ये शर्ट रग्बी यूनियन के जर्सी की तुलना में अधिक रंग-बिरंगी होती हैं।[13] रग्बी यूनियन के खिलाड़ी अधिक पारंपरिक डिजायन वाले जर्सी पहनते हैं जो कभी-कभी तो पूरी तरह सफेद होते हैं (फ्रांस में कैहॉर्स रग्बी). हालांकि, रग्बी यूनियन के ज्यादातर खिलाड़ी एक रंग के जर्सी पहनते हैं जिसपर विभिन्न रंगों की पट्टियां होती हैं। खिलाड़ी की संख्या और उसका उपनाम जर्सी की पीठ पर ऊपर की ओर लिखे होते हैं (प्राय: नाम संख्या के ऊपर रहता है जहां संख्या स्पष्ट रूप से बड़े आकार में और बीच में होती है), साथ ही टीम का लोगो सीने पर बायीं ओर ऊपर की तरफ बना होता है।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. - वेस्टर्न मॉर्निंग न्यूज़ (13.03.10)
  2. - द बुकबैग
  3. http://www.reuters.com/article/idUSN2437023820070826
  4. http://www.irb.com/rugbyandtheolympics/news/newsid=2035087.html#olympics+sevens+heaven+rugby
  5. http://www.irb.com/rugbyandtheolympics/history.html
  6. फिलिप्स, बूच्लर. साक्ष्य के मिनट के लिए परिशिष्ट संस्कृति संबंधी समिति का चयन करने के लिए, मीडिया और खेल. [1]
  7. सॉमरविल्ले, डी. (1997). रग्बी यूनियन के विश्वकोश. ओरम प्रेस, ब्रिटेन. ISBN 1-85410-481-0.
  8. कोलिन्स, टी. (2005). "ऑस्ट्रेलियाई राष्ट्रवाद और काम श्रेणी ब्रिटेनियत: रग्बी लीग फुटबॉल के प्रकरण." इतिहास कैम्पस, खंड. 3, नं. 1.
  9. कोलिन्स, टी. (1998). रग्बी'स ग्रेट स्प्लिट: कक्षा, संस्कृति और मूल रग्बी लीग फुटबॉल (लंदन).
  10. द न्यूजीलैंड पॉकेट ऑक्सफोर्ड डिक्शनरी. ISBN 0-19-558379-5.
  11. Philosophyfootball.com कोटेशन. ऑस्कर वाइल्ड को उद्धरण करने के लिए जिम्मेदार ठहराया गया है।
  12. इंटरनैशनल रग्बी बोर्ड. "रग्बी बॉल लॉज़" 22 फ़रवरी 2010.
  13. 22/02/2010 पर रग्बी जेर्सेय्स पर एक सिंहावलोकन

बाहरी लिंक्स[संपादित करें]