हैरी पॉटर (पात्र)

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
हैरी पॉटर (पात्र)
Daniel Radcliffe, November 2010.jpg
डैनियल रैड्क्लिफ़ हैरी पॉटर का पात्र करते हैं





पहली उपस्थिति: हैरी पॉटर और पारस पत्थर






'इस लेख में हॅरी पॉटर पात्र (व्यक्ति) का वर्णन है। इसी नाम के उपन्यास क्रम के लिये यहाँ जायें : हैरी पॉटर (उपन्यास)

हैरी जेम्स पॉटर या हैरी पौटर (अंग्रेजी:Harry James Potter) जे. के. रोलिंग द्वारा रचित एक दुनियाभर में मशहूर उपन्यास क्रम का प्रमुख पात्र है। वो ब्रिटेन में रहने वाला एक किशोर है जो एक आम इंसान नहीं, एक जादूगर है। उसके माँ-बाप की तभी हत्या हो गयी थी जब वो एक साल का था। हॅरी पॉटर की सारी कहानियाँ काल्पनिक हैं।

हैरी का चरित्र विवरण[संपादित करें]

हैरी एक सीधा-साधा और अच्छा लड़का है जिसे अपने माता-पिता बहुत याद आते हैं। उसे कभी माँ-बाप का प्यार नहीं मिला और हॉग्वार्ट्स के पहले तो डर्स्ली उसे दब्बू बनाकर रखते थे। हैर में इंसानी कमियाँ भी हैं जैसे- उसे कई बातों पर बहुत ग़ुस्सा आता है, जैसे वोल्डेमॉर्ट और उसके अपराध, उसके माँ-बाप को गाली देना, उसकी अपनी बातों को झुठलाया जाना, उसपर हुई नाइंसाफ़ी, आदि। हैरी एक अच्छा दोस्त और अच्छा क्विडिच ख़िलाड़ी है। पढ़ाई में भी वो ठीक-ठाक है। वोल्डेमॉर्ट और हैरी एक दूसरे के जानी दुश्मन हैं। वैसे हैरी को स्कूल के नियमों की कम ही परवाह है। वो बहुत बहादुर है, इसीलिये उसका हाउस गरुड़द्वार है। इस उपन्यास श्रृंखला की सभी पुस्तकों पर  फ़िल्में भी बन चुकी हैं जिसमें हैरी पॉटर का किरदार डैनियल रैड्क्लिफ़ ने अदा किया है।

हैरी का जीवन[संपादित करें]

हैरी पॉटर एक अनाथ लड़का है। वह अपनी मौसी पेटुनिया डर्स्ली के घर रहता है पर उसय्से यह नहीं बताया जाता है कि वह एक जादूगर है। ११ साल की उम्र में उसे रुबियस हैग्रिड से इस बात का पता चलता है कि वह जादूगर है। बाद में उसे यह भी पता चलता है कि वह सर्पभाषी है। वह ११ साल की उम्र में होग्वर्ट्स जाकर तंत्र-मंत्र और जादुई कला सीखता है। जहाँ उस का सामना वॉल्डेमॉर्ट से होता है।

बचपन[संपादित करें]

हैरी-जेम्स पॉटर के माता-पिता दोनो ही जादूगर थे। उसकी माँ का नाम था लिली पॉटर (जन्म : लिली ईवान्स) और पिता का नाम जेम्स पॉटर। दोनो ही जादूगर पुलिस (ऑरर) के सदस्य थे और उनका ख़ास दुश्मन था एक दुष्ट आतंकवादी जादूगर : लॉर्ड वोल्डेमॉर्ट। जब हैरी एक साल का था, तब वॉल्डेमॉर्ट ने म्रित्युदन्शम अभिशाप से लिली और जेम्स की हत्या कर दी और हैरी पर भी यही अभिशाप पढ़ा। लेकिन हैरी के मरने के बजाय वोल्डेमॉर्ट को उसी का शाप पलट कर लग गया। हैरी सिर्फ़ माथे पर बिजली गिरने जैसे निशान के साथ बच गया। वोल्डेमॉर्ट ख़ुद अपना जिस्म खोकर एक प्रेतात्मा जैसा बनकर रह गया। एल्बस डम्बल्डोर ने हैरी को उसके अकेले रिश्तेदार के पास छोड़ दिया : उसकी मौसी (उसकी माँ की बहन) पेटूनिया डर्सली, मौसा वरनॉन डर्सली और मौसेरा भाई डडली डर्सली। उसके तीनों रिश्तेदार आम इंसान थे और किसी भी तरह के जादू या जादू से जुड़ी चीज़ से सख़्त नफ़रत करते थे। वो बड़ी ही छिछली मानसिकता वाले लोग थे। तीनों ने हॅरी को सारे बचपन बिलकुल जीना हराम कर दिया था, उसे प्यार देना तो दूर की बात है। हैरी को उसके ख़ून में बसे जादू और उसके माँ बाप की मौत का कुछ पता नहीं था। लेकिन एक दिन सब बदल गया और वो जादू की दुनिया में वापस आ गया।

दोस्त[संपादित करें]

हॉग्वर्ट्स में हैरी को कई दोस्त मिले, पर उनमें से सबसे ख़ास हैं हर्माइनी ग्रेंजर और रॉन वीज़्ली। ये तीनों हमेशा साथ रहते हैं।

जादूगरों की दुनिया[संपादित करें]

जब हैरी पॉटर की कहानी शुरू हुई यह स्पष्ट था कि जादूगरी दुनिया उल्लेखनीय घटना जगह ले चुकी है। यह इतनी उल्लेखनीय घटना थी की मगलू भी इससे नहीं बच पाये, हैरी पॉटर की श्रृंखला में कहानी की पूर्ण पृष्ठभूमि का धीरे-धीरे पता चलता है। जैसे पहली पुतक में हैरी एक था जब वॉल्डेमॉर्ट के द्वारा उसस्के माता पिता की हत्या हुई।

उपन्यास की कडियाँ[संपादित करें]

हैरी पॉटर उपन्यास में मुख्‍य पात्र है। जो सात कड़ियों में लिखी गयी है।

पहली कड़ी[संपादित करें]

उपन्यास की पहली कड़ी हैरी पॉटर और पारस पत्थर में जब हॅरी 11 साल का था, तब उसे तन्त्र-मन्त्र और जादू-टोने के विद्यालय हॉग्वार्ट्स का रखवाला बताता है कि वो एक जादूगर है और उसे उसे हॉग्वार्ट्स के प्रधामाचार्य डम्बल्डोर ने वहीं पढ़ने का न्योता दिया है। इस तरह हॅरी पहली बार जादुई दुनिया से परिचित होता है और हॉग्वार्ट्स में दाख़िला ले लेता है। काफ़ी रोमांचक ज़िन्दगी के बाद उसने अमरता देने वाले पारस पत्थर को प्रोफ़ेसर क्विरल के सिर में घुसे वोल्डेमॉर्ट के हाथों से बचाया। (उपन्यास की हर कड़ी एक-एक साल लम्बी है)।

दूसरी कड़ी[संपादित करें]

उपन्यास की दूसरी कड़ी हैरी पॉटर और रहस्यमयी तहख़ाना में हैरी को हॉग्वार्ट्स में लार्ड वोल्डेमॉर्ट की पुरानी डायरी मिलती है। इसके माध्यम से उसका प्रेत वापिस आना चाहता था। रॉन की बहन जिन्नी वीज़्ली को फ़ुसलाकर लार्ड वोल्डेमॉर्ट् ने रहस्यमयी तहख़ाना खुलवा दिया, जिससे कि वो अशुद्ध ख़ून वाले जादूगर छात्रों को (जिनके पूर्वजों या माँ-बाप में से कोई भी मगलू है) एक विशाल नाग (बैसिलिस्क) द्वारा मरवा डाले। हैरी ने उसकी ये योजना भी चौपट कर दी।

तीसरी कड़ी[संपादित करें]

उपन्यास की तीसरी कड़ी हैरी पॉटर और अज़्काबान का क़ैदी की कहानी में जादूगरों की जेल अज़्काबान से एक क़ैदी सिरियस ब्लैक भाग निकलता है अपना बदला लेने के लिये। सिरियस जेम्स पॉटर का दोस्त हुआ करता था। पहले हॅरी ने सोचा की सिरियस बदमाश है और उसीने उसके माँ-बाप को धोखा देकर उनकी हत्या करायी थी। पर बाद में पता चलता है कि सिरियस मासूम था और हत्या जेम्स के एक अन्य दोस्त पीटर पेटिग्रू (वर्मटेल) ने करायी थी। हॅरी और हर्माइनी की मदद से सिरियस कानून की पहुँच से बाहर भाग जाता है।

चौथी कड़ी[संपादित करें]

उपन्यास की चौथी कड़ी हैरी पॉटर और आग का प्याला में हॅरी को हॉग्वार्ट्स में ज़बरन जादूगरी की त्रिकोणीय श्रंखला में भाग लेना पड़ता है जिसके तीन चरण हैं। पहले चरण में हैरी ड्रैगन से लड़ता है, दूसरे चरण में झील के पानी के नीचे संघर्ष करता है और तीसरे चरण में उसे भूल-भुलैया में से ट्रॉफ़ी लेनी होती है। उलटे वो और उसका सह-प्रतिद्वन्दी (सॅड्रिक डिगरी) ट्रॉफ़ी छूते ही लॉर्ड वोल्डेमॉर्ट के पास पहुँच जाते हैं, जहाँ वर्मटेल सॅड्रिक का कत्ल कर देता है और हैरी के ख़ून की मदद से वो लॉर्ड वोल्डेमॉर्ट को जिस्मो-जान समेत ज़िन्दा कर देता है। मगर हॅरी वोल्डेमॉर्ट की पकड़ से इस बार भी भाग निकलता है। वोल्डेमॉर्ट के वापिस ज़िन्दा हो कर आने की बात को ब्रिटेन का जादूमन्त्री कॉर्नेलियस फ़ज झूठ करार देता है।

पाँचवी कड़ी[संपादित करें]

उपन्यस की पाँचवी कड़ी हैरी पॉटर और मायापंछी का समूह में सबसे पहले हॅरी को जादू की अदालत में हाज़िरी देनी पड़ती है। उसपर ग़लत तरीके से एक मुक़दमा दायर किया जाता है, एक ऐसे छोटे से अपराध के लिये जिसमें वो बेगुनाह था। पर मुक़दमे में उसे बेगुनाह साबित कर दिया जाता है। इसके बाद वापिस हॉग्वार्ट्स में जादूमन्त्री कॉर्नेलियस फ़ज की बेबुनियाद दख़लंदाज़ी शुरु हो जाती है। काली कलाओं से आत्मरक्षा विषय के लिये मिन्त्रालय से जादूमन्त्री की सचिव डोलोरिस अम्ब्रिज आती हैं जो सरे आम हॅरी को झूठा करार देने पर तुली रहती हैं। बाद में अम्ब्रिज विद्यालय की प्रधानाचार्या भी बन जाती है। अंत के दिनों में सिरियस को बचाने के लिये हैंरी और उसके कई दोस्त जादूमन्त्रालय के रहस्य विभाग पहुँचते हैं जहाँ वोल्डेमॉर्ट भी आ जाता है। हैरी तो इस बार डम्बल्डोर की वजह से बच जाता है, पर सिरियस मारा जाता है।

छठी कड़ी[संपादित करें]

उपन्यास की छठी कड़ी हैरी पॉटर और हाफ़-ब्लड प्रिंस में हॅरी को डम्बल्डोर की यादों के द्वारा वोल्डेमॉर्ट (टॉम मार्वोलो रिडल) की पहले की ज़िन्दगी के बारे में काफ़ी कुछ पता चलता है। उधर हैरी को जादुई काढ़े की क्लास में एक अजीब और बेनाम किताब से बहुत मदद मिलती है, जिसका मालिक ख़ुद को आधा-ख़ून राजकुमार कहता था। उसी साल एक नया जादूमन्त्री बनता है : रूफ़स स्क्रिमेजर। हॅरी और डम्बल्डोर ऐसा मान्कर चलते हैं कि वोल्डेमॉर्ट ने ख़ुद को अमर करने के लिये अपनी आत्मा को सात टुकड़ों में फाड़ा था और हरेक को एक होर्क्रक्स में डाल दिया था। हॅरी और डम्बल्डोर एक होर्क्रक्स को नष्ट करने एक गुफा में जाते हैं लेकिन उनके निराशा ही हाथ लगती है, क्योंकि होर्क्रक्स नकली निकला। इसके बाद हॅरी का सबसे कम पसंदीदा अध्यापक प्रोफ़ेसर स्नेप मृत्युदंशम् अभिशाप से डम्बल्डोर को मार डालता है।

सातवी कड़ी[संपादित करें]

हैरी पॉटर और मौत के तोहफ़े कड़ी इस क्रम का आखरी उपन्यास है। इस उपन्यास में हॅरी पॉटर का सामना शैतानी शहंशाह् (वोल्डेमॉर्ट) से होता है। इस उपन्यास में हैरी को होर्क्रक्स नामक वस्तु (कुल ६) को खोजता है। इस वस्तु में शैतानी शहंशाह् (हिन्दी डब फिल्मों के हिसाब से 'अनिष्ट् देव') अपनी आत्मा को सात हिस्सों बाट कर अलग-अलग जगाह छुपा देता है। हैरी पॉटर और उसके साथी होर्क्रक्स की खोज में जाते हैं और उन्हे वोल्डेमॉर्ट का सामना भी करना पड़ता है कहानी के अंत वह वोल्डेमॉर्ट को हराने में कामयाब हो जाते है।

यह भी देखें[संपादित करें]