हम होंगे कामयाब

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

हम होंगे कामयाब (अंग्रेज़ी: We Shall Overcome का गिरिजा कुमार माथुर द्वारा किया गया हिंदी भावानुवाद) एक प्रतिरोध गीत है। यह गीत बीसवीं सदी में नागरिक अधिकार आंदोलन का प्रधान स्वर बना। इस गीत को आमतौर पर "I'll Overcome Some Day" ("आई विल ओवरकम सम डे") से काव्यावतरित माना जाता है, जो चार्ल्स अल्बर्ट टिंडले द्वारा गाया गया था और जिसे 1900 में पहली बार प्रकाशित किया गया था।[1][2]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Bobetsky, Victor (2014). "The complex ancestry of "We Shall Overcome"". Choral Journal. 57: 26–36.
  2. Lynskey, Dorian (2011). 33 revolutions per minute. London, UK: Faber & Faber. पपृ॰ 33. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 978-0061670152.