हताशा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

मनोविज्ञान के सन्दर्भ में हताशा या कुण्ठा (फ्रस्टेशन) एक प्रमुख भावनात्मक प्रतिक्रिया है जो व्यक्ति की इच्छाओं के अपूर्ण होने के प्रत्यक्षीकृत प्रतिरोध (perceived resistance) के कारण पैदा होता है।